ये है भारत की वो 7 जगहें, जहां भारतीयों के घुसने पर ही है पाबंदी, सिर्फ Allowed है विदेशी
 

भारत कई सालों तक अंग्रेजी हकूमत के अंदर रहा है. कई सालों के संग्राम के बाद भारत को आजादी मिली और भारतीयों को स्वतंत्रता. जैसे ही आजादी मिली, भारत के लोग अपनी मर्जी से अपने देश में रहने और घूमने को आजाद हो गए. कहीं भी आने-जाने के लिए उन्हें किसी से अनुमति की जरुरत नहीं रही. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस आजाद भारत में भी कुछ ऐसी जगहें हैं, जहां जाने पर भारतीयों के ऊपर बैन लगा है. जी हां, इन जगहों पर विदेशियों को आराम से एंट्री मिल जाती है लेकिन अगर आप इंडियन हैं, तो आपके लिए ऐसा कर पाना काफी मुश्किल है. आप भारत की इन जगहों पर सिर्फ इस कारण नहीं जा सकते क्यूंकि आप इंडियन हैं. आइये आपको बताते हैं कौन-कौन सी हैं वो जगहें...

d

चेन्नई का रेड लॉलीपॉप हॉस्टल: चेन्नई के इस हॉस्टल में नो इंडियन पॉलिसी है. यहां सिर्फ विदेशी पासपोर्ट वाले ही बुकिंग कर सकते हैं. हालांकि, वैसे भारतीय जिनके पास विदेशी पासपोर्ट है, वो भी यहां रुक सकते हैं.

c

कुंडनकुलम का रशियन कॉलोनी: तमिलनाडु के कुंडनकुलम में बने रशियन कॉलोनी में कुंडनकुलम न्यूकियार पावर प्लांट से जुड़े लोग रहते हैं. यहां रेसिडेंशियल हाउस, क्लब, होटल और भी बहुत कुछ है. इस कॉलोनी में भारतीयों का आना स्ट्रिक्टली मना है.

c
अहमदाबाद का सकुरा रयोकान रेस्त्रां: अहमदाबाद के इस रेस्त्रां में सिर्फ जापानी लोगों को खाना परोसा जाता है. जबकि इस रेस्त्रां का मालिक एक भारतीय है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक बार यहां आए कुछ भारतीयों ने रेस्त्रां की नॉर्थ ईस्टर्न वेट्रेस को छेड़ा था. तबसे यहां भारतीयों के लिए नो एंट्री है.

f

बंगलुरु का उनो-इन होटल: बंगलुरु के इस प्रॉपर्टी को ग्रेटर बैंगलोर सिटी कॉर्पोरेशन ने बंद कर दिया था. इस पर इल्जाम था कि ये सिर्फ जापानी लोगों को सर्व करता है. हालांकि, अब ये प्रॉपर्टी ओयो के अंदर आती है और यहां भारतीयों को भी सर्व किया जाने लगा है.

कसोल का फ्री कसोल कैफे: इस कैफ़े की तब से चर्चा शुरू हुई जब कुछ भारतीयों ने जानकारी दी कि उन्हें यहां नहीं जाने दिया गया क्यूंकि वो भारतीय थे. वैसे इसके मालिक ने इस बात से इंकार किया है लेकिन एक लड़की ने बताया था कि कैफ़े ने उसे मेन्यू कार्ड देने से इंकार कर दिया जबकि उसके साथ ही खड़े एक ब्रिटिश को दे दिया था. बताया जाता है कि एक बार कुछ भारतीय कैफ़े में हंगामा मचाकर जा चुके हैं. उन्होंने यहां की महिला ओनर के साथ बदतमीजी की थी. तभी से यहां इंडियंस बैन हैं.

r

चेन्नई का ब्रॉडलैंड्स होटल: चेन्नई के इस होटल में सिर्फ विदेशी पासपोर्ट वाले ही स्टे कर सकते हैं. कुछ कमरे भारतीयों के लिए हैं लेकिन वो तभी उन्हें मिलती है, जब विदेशी सैलानी कम आते हैं. एक ऑनलाइन होटल बुकिंग साइट द्वारा ही बात का खुलासा किया गया जिसमें लिखा था कि कैसे एक भारतीय को ऑनलाइन रिजर्वेसन के बाद भी होटल में नहीं ठहरने दिया गया था.

g

गोवा का फॉरेनर्स ओनली बीच: गोवा में मौजूद कई बीचेस में सिर्फ विदेशी ही अलाउड हैं. यहां गेस्ट्स आराम से बिकिनी और कुछ जगहों पर तो नेकेड घूम सकते हैं. ऐसी जगहों पर इंडियंस को एंट्री नहीं दी जाती. इसकी वजह साफ़ है. भारतीय लोग ऐसे कल्चर को अभी एक्सेप्ट नहीं कर पाए हैं. इस वजह से उन्हें ऐसे माहौल में दिक्कत होगी. इस वजह से इन बीचेस पर भारतीय नहीं जा सकते