सोशल मीडिया पर पहली मुलाकात, जिम से हुई दोस्ती की शुरूआत,ऑस्ट्रेलिया से लौटे अभिषेक को देखते ही दिल हार बैठी थी IAS पूजा सिंघल
 

IAS Pooja Singhal Husband Abhishek Jha Story : तलाक से पहले ही पूजा और अभिषेक की दोस्ती गाढ़ी हो चुकी थी। जिसके बाद दोनों परिवार की सहमति से शादी भी हो गयी। लेकिन अब जब दोनों की पारिवारिक जिन्दगी अच्छी तरह से चल रही थी, तो ईडी की छापेमारी ने दोनों के लिए एक नयी उलझन पैदा कर दी है

रांची : प्रवर्तन निदेशालय द्वारा आईएएस पूजा सिंघल ( ias Pooja Singhal ), उनके पति अभिषेक झा ( Abhishek jha ) और अन्य करीबियों के ठिकानों पर की गयी छापेमारी के बाद गुगल सर्च में सबसे ज्यादा अभिषेक और पूजा की स्टोरी की तलाश की जा रही है। दोनों की स्टोरी सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही है।


ऑस्ट्रेलिया से एमबीए की डिग्री प्राप्त कर वापस लौटे अभिषेक झा और पूजा सिंघल के बीच दोस्ती और फिर शादी को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की खबरें आ रही है। जिससे यह जानकारी मिलती है कि पूजा सिंघल की अभिषेक से मुलाकात सोशल मीडिया के माध्यम से ही हुई थी और बाद में एक जिम में आने-जाने के दौराम दोनों के बीच दोस्ती हो गयी।

आईएएस राहुल पुरवार से पहली शादी
हालांकि इससे पहले रिकॉर्ड 21 साल 7 दिन में आईएएस बनने वाली पूजा सिंघल ने अपने सीनियर आईएएस राहुल पुरवार से शादी कर ली थी, लेकिन लंबे समय तक दोनों के बीच यह रिश्ता नहीं चल सका। प्रारंभिक दो-तीन साल के अंतराल में ही दोनों के बीच आपसी संबंध में विभिन्न कारणों को लेकर तनाव आ गये, जिसके बाद पूजा सिंघल और राहुल पुरवार के बीच तलाक हो गया।

तलाक से पहले ही पूजा और अभिषेक की दोस्ती
चर्चा यह भी है कि तलाक से पहले ही पूजा और अभिषेक की दोस्ती गाढ़ी हो चुकी थी। जिसके बाद दोनों परिवार की सहमति से शादी भी हो गयी। लेकिन अब जब दोनों की पारिवारिक जिन्दगी अच्छी तरह से चल रही थी, तो ईडी की छापेमारी ने दोनों के लिए एक नयी उलझन पैदा कर दी है और इसका उनके पारिवारिक जीवन में कितना असर पड़ेगा, यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

कई घोटालों में आया नाम
चतरा में उपायुक्त रहते हुए पूजा सिंघल ने मनरेगा योजना से 2 एनजीओ को 6 करोड़ रुपये दिये। इस मामले में विधानसभा में भी सवाल उठा, लेकिन बाद में उन्हें क्लिन चिट मिल गयी। जबकि खूंटी जिले में उपायुक्त रहने के दौरान मनरेगा में 16 करोड़ रुपये के घोटाले में नाम आया, जिसकी जांच अभी ईडी कर रही है। इससे पहले पलामू में उपायुक्त रहने के दौरान पूजा सिंघल पर उषा मार्टिन ग्रुप को कठौतिया कोल ब्लॉक आवंटन में नियमों की अनदेखी का आरोप लगा।

कौन हैं पूजा सिंघल
पूजा सिंघल झारखंड की सीनियर अधिकारी हैं। वर्तमान में उनके पास उद्योग सचिव और खान सचिव का प्रभार है। इसके अलावा पूजा सिंघल झारखंड राज्य खनिज विकास निगम (जेएसएमडीसी ) की चेयरमैन भी हैं। बता दें कि पूजा सिंघल इससे पहले भी बीजेपी की सरकार में कृषि सचिव के पद पर तैनात थीं। पूजा मनरेगा घोटाले के वक्त खूंटी में डीसी पद पर तैनात थीं।