Chopal TV

गर्मी के मौसम में स्किन से संबंधित कई तरह की बीमारियां होती है। जैसे शरीर पर फोड़े या छोटे- छोटे दाने होना। जिन्हें घमौरियां कहते हैं। इससे काफी परेशानी होती है। इनमें दर्द और जलन भी काफी होती है। घमौरियां कहते हैं। वहीं, डॉक्टर्स के अनुसार, घमौरियां खासतौर पर पीठ और गर्दन पर सबसे ज्यादा होती हैं। इसके अलावा कई लोगों को चेहरे और पेट पर भी होती हैं। घमौरियों पर ठंडी चीजों का इस्तेमाल करने से अच्छा होता है। घमौरियों की समस्या को कई घरेलू उपायों से भी ठीक किया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं इनके नुस्खों के बारे में..


कच्चा आम ठंडी तासीर का होता है, इसके अधिक सेवन से शरीर को बेहद ठंडक मिलती है। गर्मी में कच्चे आम का सेवन लाभकारी होता ही है, लेकिन घमौरियां ठीक करने के लिए इसका लेप भी कारगर होता है। कच्चे आम को गैस पर अच्छे से उबाल लें और फिर इस गूदे का लेप घमौरियां वाली जगह पर लगाएं, इससे घमौरिया ठीक होंगी।


एक गिलास पानी लें, फिर इसमें नींबू का रस डालें। इसके बाद इसमें खीरे के छोटे-छोटे टुकड़े काटकर डाले। इस खीरे के टुकड़े को घमौरियां वाले स्थान पर लगाएं। इससे भी घमौरियां की समस्या ठीक होगी. खीरा भी ठंडक देता है, जिससे घमौरियां या गर्मी में त्वचा संबंधित अन्य समस्याओं का इलाज किया जा सकता है।

कच्चा प्याज भी तासीर में ठंडा होता है। गर्मी में प्याज का सेवन सबसे ज्यादा किया जाता है, क्योंकि इससे शरीर में ठंडक बनी रहती है। घमौरियां से छुटकारा पाने के लिए कच्चे प्याज को पीसकर इसका रस निकाल लें।इस रस को शरीर पर हुए घमौरियां वाली जगह पर लगाएं, इससे घमौरिया जल्दी ही ठीक हो जाएगी।

घमौरियां से निजात पाने के लिए नारियल के तेल में कपूर मिलाकर शरीर पर लगाएं। इस नुस्खे से भी घमौरियां से छुटकारा मिलेगा। नारियल का तेल त्वचा के लिए काफी अच्छा होता है। कपूर ठंडक पहुंचाने का काम करता है इसलिए कपूर और नारियल का तेल त्वचा पर जलन जैसी समस्या को भी ठीक करते हैं।

 

 

जल्द लॉन्च हो सकती है देश में Covaxin, सात जुलाई से होगा ह्यूमन ट्रायल

नीम की पत्तियों में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जिससे त्वचा संबंधित समस्याएं जल्दी ठीक हो जाती हैं। नीम का इस्तेमाल सबसे ज्यादा फेसपैक के रूप में किया जाता है। घमौरियां ठीक करने के लिए नीम की पत्तियों को पानी में उबाल लें और इस पानी को ठंडा होने के बाद अपने नहाने वाले पानी में मिलाकर स्नान करें।  इससे घमौरियां जल्दी ही ठीक हो जाती हैं।


तुलसी में एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक दोनों ही गुण होते हैं, जिससे त्वचा की समस्याएं जल्दी ठीक होती हैं। घमौरियां ठीक करने के लिए तुलसी की लकड़ी बहुत लाभदायक होती है।

इसके लिए तुलसी की लकड़ी को पीस लें। इसके बाद इसका चूर्ण तैयार कर लें और इसका लेप घमौरियां वाली सतह पर लगाने से भी आराम मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *