Home Big Breaking खुशखबरी! रिलायंस इंडस्‍ट्रीज 30 हजार से कम वेतन पाने वालों वरकर्स को देगी महीने में दो बार देगी सैलरी, पढ़िए

खुशखबरी! रिलायंस इंडस्‍ट्रीज 30 हजार से कम वेतन पाने वालों वरकर्स को देगी महीने में दो बार देगी सैलरी, पढ़िए

10 second read

Chaupal TV, Chandigarh

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे और पूरे देश में 21 दिन के लॉकडाउन की स्थिति को देखते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) अपने कर्मचारियों को महीने में दो बार करके सैलरी का भुगतान करेगी। रिलायंस ने कहा है कि कंपनी का जो भी कर्मचारी महीने में 30,000 से कम कमाता है उसे महीने में दो बार करके वेतन दिया जाएगा।

मुकेश अंबानी की अगुवाई में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक बयान में कहा कि, ‘हर महीने 30,000 रुपये से कम कमाने वालों के लिए, उनके कैशफ्लो को बचाने और किसी भी भारी वित्तीय बोझ को कम करने के लिए महीने में दो बार वेतन का भुगतान किया जाएगा।’ रिलायंस इसलिए ऐसा कर रही है ताकि उसके कर्मचारियों को महीने के बीच में नकदी की दिक्कत न हो। उसका कैश फ्लो बना रहे और उसके पास किसी आपात स्थिति से निपटने के लिए पैसे रहें।

गौरतलब है कि चीन के वुहान शहर से उत्पन्न घातक कोरोना वायरस ने दुनिया भर में 10,000 से ज्यादा लोगों की जिंदगी ले ली है। भारत में अब तक लगभग 500 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं, जबकि 10 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। कंपनी ने कहा, ‘रिलायंस इंडस्ट्रीज, रिलायंस रिटेल, Jio, Reliance Life Sciences, Reliance Industries और Reliance Family के सभी 6,00,000 सदस्यों COVID-19 के खिलाफ पूरी तरह से तैनात हैं।’

हाल ही में रिलायंस ने कहा था कि लॉकडाउन की वजह से जो अनुबंध और अस्थायी कर्मचारी काम पर नहीं जा पा रहे हैं कंपनी उनके वेतन का भुगतान करना जारी रखेगी। रिलायंस जियो नेटवर्क को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वालों को छोड़कर, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने अधिकांश कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम का विकल्प दिया है। कोरोना के पॉजिटिव मरीजों के लिए Reliance Foundation Hospital ने 100 बेड वाला एक अस्पताल तैयार किया है। इसके अलावा कंपनी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपये का दान भी दिया है।

Check Also

कराटे की नेशनल खिलाड़ी ने सरकार के सामने रखा प्रस्ताव, कहा- ‘मुझ पर कर सकते हैं कोरोना की दवा का परीक्षण’

Caupal TV, Rewari रेवाड़ी की एक गोल्ड मैडलिस्ट महिला खिलाड़ी में सरकार के समक्ष एक ऐसा प्र…