राजनीति

गहलोत के सामने चुनाव में हुड्डा भी ठोकेंगे ताल?

Navdeep Setia
23 Sep 2022 9:44 AM GMT
गहलोत के सामने चुनाव में हुड्डा भी ठोकेंगे ताल?
x
हरियाणा कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव में दिलचस्पी दिखाई है। इसी कड़ी में हुड्डा ने शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की।

हरियाणा कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव में दिलचस्पी दिखाई है। इसी कड़ी में हुड्डा ने शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की।

इस मुलाकात के बाद पूछे सवाल पर हुड्‌डा ने कहा कि अभी नामांकन 24 सितंबर से शुरू होने हैं। मीडिया से बातची तमें हुड्‌डा ने कहा कि मुलाकात के दौरान प्रधान पद को लेकर सोनिया गांधी ने कहा कि वह न्यूट्रल हैं, कोई भी चुनाव लड़ सकता है। अभी देखेंगे कि कौन-कौन नामांकन भरता है?

उन्होंने अध्यक्ष पद का चुनाव लडऩे से सीधे तौर पर इनकार नहीं किया। जिसके बाद हरियाणा की राजनीति में भी चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। ​​​​​​

गौरतलब है कि ढ्ढहृष्ट अध्यक्ष पद का चुनाव अगले महीने 17 अक्टूबर को होगा। 19 अक्टूबर को मतगणना होगी। चुनाव के लिए 22 सितंबर को अधिसूचना जारी हो चुकी है। कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 24 सितंबर से शुरू होगी। इसकी अंतिम तिथि 30 सितंबर तय की गई है।

कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए अब दावेदारों की संख्या बढ़ने लगी है। पहले ऐसा लग रहा था कि राहुल गांधी के नाम पर सहमति बन जाएगी, लेकिन शशि थरूर और बाद में अशोक गहलोत के चुनाव लड़ने की चर्चाओं के बीच अब कई और नेताओं के नाम सामने आने लगे हैं। इनमें पूर्व CM दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी के नाम भी शामिल हैं। सबसे मजबूत दावेदारी अशोक गहलोत की मानी जा रही है।

वहीं हुड्डा की सोनिया गांधी से मुलाकात से पहले हरियाणा कांग्रेस की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सर्वसम्मति से राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए प्रस्ताव पारित हुआ। बैठक के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा था कि भारत जोड़ो में राहुल गांधी को लोगों का भरपूर प्यार मिल रहा है।

इस समर्थन को देखते हुए हरियाणा कांग्रेस भी यही चाहती है कि राहुल गांधी ही पार्टी के अगले अध्यक्ष बनें। इसलिए प्रदेश कांग्रेस के विधायकों की बैठक में सर्वसम्मति से राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने को लेकर प्रस्ताव पारित किया गया है। हालांकि राहुल गांधी अध्यक्ष नहीं बनना चाहते।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव में हरियाणा से 195 डेलीगेट्स वोट करेंगे। हाल ही में चंडीगढ़ में हुई हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक में सभी 195 डेलीगेट्स ने भाग लिया था।

वहीं उधर, पार्टी की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सैलजा, राज्यसभा सांसद रणदीप सुरजेवाला, किरण चौधरी ने आरोप लगाया है कि 195 डेलीगेट्स में लापरवाही बरती गई। सभी डेलीगेट्स हुड्‌डा के प्रभाव वाले बताए जा रहे हैं।

Next Story