प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, पीएम बोले- अपने सीएम को थैंक्स कहना कि मैं एयरपोर्ट जिंदा लौट पाया
 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है. उनकी पंजाब के फिरोजपुर में बड़ी रैली होनी थी. लेकिन प्रदर्शन कर रहे किसानों ने सड़क पर ही उनके काफिले को रोक दिया. अब ANI से बात करते हुए अधिकारियों ने बताया है कि पीएम मोदी इस घटना से खासा नाराज हैं. उन्होंने सीएम चन्नी पर निशाना साधते हुए कहा है कि अपने सीएम को थैंक्स कहना कि मैं एयरपोर्ट जिंदा लौट पाया.

बताया जा रहा है कि पीएम मोदी जब बठिंडा एयरपोर्ट पर वापस लौट रहे थे, तब उन्होंने अधिकारियों को ये संदेश दिया था. उन्होंने साफ-साफ सीएम चन्नी पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि अपने सीएम को थैंक्स कहना मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया.

null



पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का बड़ा मामला सामने आया है. इसमें उनके रास्ते को प्रदर्शनकारी किसानों ने करीब 15 मिनट तक रोककर रखा. इसके चलते फिरोजपुर में आज होने वाली पीएम मोदी की रैली भी रद्द हो गई. गृह मंत्रालय की तरफ से इसपर बयान भी जारी किया गया है. साथ ही साथ पंजाब सरकार से जवाब भी मांगा गया है. बीजेपी ने इसपर सीएम चन्नी का इस्तीफा मांगा है.

modi

गृह मंत्रालय की तरफ से जो बयान जारी किया गया है उसमें लिखा है कि पीएम सुबह बठिंडा पहुंचे थे. फिर वहां से उनको हेलिकॉप्टर से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था. लेकिन बारिश और कम दृश्यता की वजह से पहले पीएम को 20 मिनट इंतजार करना पड़ा. फिर आसमान साफ ना होता देख उन्होंने सड़क मार्ग से वहां जाने का फैसला किया. इसमें करीब 2 घंटे लगने थे. इसके बारे में पंजाब पुलिस के डीजीपी को बताकर आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था की रजामंदी ली गई.

आगे बताया गया कि जब काफिला राष्ट्रीय शहीद स्मारक से 30 किलोमीटर दूर था तब रास्ते में एक फ्लाईओवर आया. वहां रास्ते को प्रदर्शनकारियों ने रोका हुआ था. उस फ्लाईओवर पर पीएम मोदी का काफिला 15-20 मिनट फंसा रहा. इसे गृह मंत्रालय ने पीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक माना है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फिरोजपुर में होने वाली चुनावी रैली को भी रद्द करनी पड़ गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने इसकी जानकारी दी। चुनावी प्रचार के अलावा पीएम मोदी प्रदेश की जनता को 42,750 करोड़ रुपए की कई विकास परियोजनाओं की सौगात भी देने वाले थे। इनमें दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस वे, फिरोजपुर में पीजीआई सैटेलाइट सेंटर और कपूरथला-होशियारपुर में दो नए मेडिकल कॉलेज शामिल थे।