Chopaltv.com
इनेलो की सरकार बनने पर कौन बनेगा मुख्यमंत्री ?, अभय चौटाला ने दिया ये जबाव
हरियाणा की राजनीति में एक बार फिर से ओपी चौटाला के जेल से रिहाई के बाद नया मोड़ आ गया है। ओपी चौटाला के तिहाड़ जेल से बाहर आने के बाद राजनीतिक गलियारों में फिर से हलचल पैदा हो गई है। प्रदेश में अब इनेलो के फिर से मजबूती से...
 
इनेलो की सरकार बनने पर कौन बनेगा मुख्यमंत्री ?, अभय चौटाला ने दिया ये जबाव

हरियाणा की राजनीति में एक बार फिर से ओपी चौटाला के जेल से रिहाई के बाद नया मोड़ आ गया है। ओपी चौटाला के तिहाड़ जेल से बाहर आने के बाद राजनीतिक गलियारों में फिर से हलचल पैदा हो गई है। प्रदेश में अब इनेलो के फिर से मजबूती से खड़े होने के संकेत इनेलो ने देने शुरु कर दिये हैं।

इनेलो की तऱफ से अब संगठन को फिर से मजबूत करने के लिए तैयारियां जोरों शोरों से चल रही है। कई बड़े नेता अब फिर से इनेलो में अपना भविष्य तलाश रहे हैं, वही ओपी चौटाला खुद इनेलो के वर्करों को जोड़ने में जुट गए हैं।

ओपी चौटाला की तिहाड़ जेल से रिहाई के बाद लगातार राजनीतिक समीकरण बदल रहे हैं और राजनेताओं का लगातार इनेलो की तरफ झुकाव देखने को मिल रहा है। वहीं इनेलो नेताओं की तरफ से भी लगातार कार्यकर्ताओं के बीच जाकर उन्हे फिर से जोड़ने का काम किया जा रहा है।

महिला एवं युवा प्रकोष्ठ की बैठक में पहुंचे अभय चौटाला ने भी इनेलो की सरकार को लेकर काफी कुछ बातें कही। उन्होंने कहा कि आया सीएम आया सीएम के नारे लगवाने वालों का अब ये हाल है कि वो अब जनता के बीच नहीं आ सकते।

इनेलो की सरकार बनने पर कौन बनेगा मुख्यमंत्री ?, अभय चौटाला ने दिया ये जबाव

अभय सिंह चौटाला ने एक सवाल के जबाव में कहा कि अगर प्रदेश में इनेलो की सरकार बनती है तो ओमप्रकाश चौटाला मुख्यमंत्री होंगे। चौटाला ने कहा कि चुनाव आयोग की इजाजत मिलने के बाद पार्टी सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला चुनाव लड़ेंगे और एक बार फिर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनकर सत्ता की बागडोर संभालेंगे।

भाजपा, जजपा और कांग्रेस को यह एहसास हो गया है कि आने वाले चुनाव में उनका सुपड़ा साफ होने वाला है। इसलिए कांग्रेस नेताओं ने चुनाव आयोग में वकीलों को खड़ा कर दिया है ताकि इनेलो सुप्रीमो को चुनाव लड़ने की इजाजत न मिले।

अभय चौटाला ने कहा कि एक माह बाद इनेलो सुप्रीमो हिसार में महिलाओं की बैठक लेंगे जिसके लिए सभी को एक माह के अंदर हर गांव में महिला प्रधान नियुक्त करनी है। उन्होंने कहा भाजपा सरकार की नीतियों की सबसे बड़ी मार महिलाओं पर पड़ी है। तेल व रसोई गैस की कीमतों में बेहताशा बढ़ोतरी होने से महिलाओं का रसोई का बजट गड़बड़ा गया है।