नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन से प्रेरणा लें युवाः डाॅ ढुल

 
 नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन से प्रेरणा लें युवाः डाॅ ढुल

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन से प्रेरणा लें युवाः डाॅ ढुल
: संघर्ष और मेहनत के बल पर अभिभावकों के सपने पूरे करें युवा
: इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन द्वारा नेताजी की जयंती पर कार्यक्रम का हुआ आयोजन

झुंझुनू। श्री जेजेटी युनिवर्सिटी के प्रेजिडेंट डाॅ देवेंद्र सिंह ढुल ने कहा है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने संघर्ष, मेहनत और नेतृत्व के गुण की बदौलत देश की आजादी के मतवालों की फौज तैयार की, जिसने देश में अंग्रेजी हकूमत की ईंट से ईंट बजाने में अहम भूमिका अदा दी। आज युवाओं को नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन से प्रेरणा लेने की जरूरत है, ताकि वो जीवन में अपने अभिभावकों के सपने पूरे करने से लेकर देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभा सकें।

fghurtu

gutr

मंगलवार को इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर आयोजित संगोष्ठी में प्रेजिडेंट डाॅ देवेंद्र सिंह ढुल ने मुख्यातिथि के तौर पर शिरकत की व उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किए। युवाओं को संबोधित करते हुए युनिवर्सिटी के प्रेजिडेंट डाॅ देवेंद्र सिंह ढुल ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस का व्यक्तित्व पूरी दुनिया के सामने नेतृत्व गुण का सबसे बडा उदाहरण है। उन्होंने देश की गुलामी की बेडियों को काटने के लिए अपनी क्षमता और मेहनत के बूते जो काम किया, आज पूरी दुनिया उनकी कायल है। देश की आजादी के लिए असंख्य शहादत हुई, लेकिन नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने हजारों, लाखों युवाओं को देश के दुश्मनों के खिलाफ खडा होने का जज्बा दिया। उन्होंने अपने संघर्ष, मेहनत और नेतृत्व गुण की बदौलत बडी संख्या में युवाओं को देश के लिए एकजुट होने के लिए प्रेरित किया।

urtut

अपने संबोधन में डाॅ देवेंद्र सिंह ढुल ने कहा कि युवाओं को अपने अभिभावक के सपनों व लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अनुशासन के साथ काम करना चाहिए। अच्छे विद्यार्थी, अच्छे नागरिक के तौर पर उनकी भूमिका तभी तैयार होगी, जब वह अनुशासन में रहकर शिक्षा प्राप्त करेंगे व प्रतिस्पर्धात्मक दौर के लिए खुद को तैयार करेंगे। उन्होंने कहा कि आज की चुनौतियों का समाधान करने के लिए युवाओं को ज्ञार्नाजन करना होगा। उनका अनुभव ही उन्हें चुनौतियों का सामना करने में मदद करेगा। कार्यक्रम संयोजक व इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन के प्राचार्य डाॅ रामप्रताप सैनी ने मुख्यातिथि डाॅ देवेंद्र सिंह ढुल को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर डीन एकेडमिक डाॅ रामदर्शन फौगाट, शारीरिक शिक्षा विभाग प्राचार्य डाॅ मनोज गोयल, रसायन विभाग अध्यक्ष डाॅ वीडी गुप्ता, योग विभाग प्रभारी डाॅ तनुश्री, डाॅ हरीशचंद्र सिंह सहित वरिष्ठ फैकल्टी व विद्यार्थी उपस्थित रहे।