Toll plaza News : खत्म होगा FASTag का झंझट, नंबर प्लेट से वसूला जाएगा टोल टैक्स, गडकरी ने बताया प्लान

 
खत्म होगा FASTag का झंझट, नंबर प्लेट से वसूला जाएगा टोल टैक्स, गडकरी ने बताया प्लान

Toll plaza News: देश को जल्द ही FASTag के झंझट से मुक्ति मिलने वाली है। इसके साथ ही टोल प्लाजा भी बीते दिनों की बात होने जा रहे हैं. दरअसल, सरकार अब नेशनल हाईवे से टोल हटाकर ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर कैमरे के जरिए टोल टैक्स वसूलने की योजना पर काम कर रही है. यह जानकारी सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने साझा की है.

फास्टैग की जगह नंबर प्लेट से वसूली
बिजनेस स्टैंडर्ड पर छपी एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, फिलहाल टोल प्लाजा पर FASTag के जरिए टैक्स काटा जाता है। लेकिन, जल्द ही ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर कैमरे यह काम करेंगे। कैमरे इन स्वचालित नंबर प्लेटों को पढ़ेंगे और आपके बैंक खाते से टोल टैक्स का पैसा काट लिया जाएगा।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि इस योजना पर पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर काम चल रहा है. उन्होंने कहा कि इस योजना को लागू करने के लिए कानूनी संशोधन पर भी विचार किया जाएगा.

नंबर प्लेट रीडर कैमरे लगाए जाएंगे
नितिन गडकरी ने कहा कि अब टोल प्लाजा को हटाकर नंबर प्लेट रीडर कैमरे लगाने की तैयारी है, जो वाहन चालकों से टोल टैक्स वसूलेंगे. रिपोर्ट के मुताबिक, ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर कैमरे से टोल टैक्स वसूलने में लगने वाला समय कम हो जाएगा. गडकरी ने कहा कि हालांकि, इस प्रोजेक्ट में कुछ बाधाएं भी सामने आ रही हैं, जिन्हें दूर करने पर विचार किया जा रहा है. उदाहरण के तौर पर अगर नंबर प्लेट पर नंबर के अलावा कुछ और लिखा है तो कैमरे को उसे पढ़ने में दिक्कत आ सकती है.

इन समस्याओं को सुलझाने का प्रयास किया जा रहा है
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसके अलावा अगर एक और बड़ी समस्या की बात करें तो जो वाहन चालक टोल टैक्स नहीं देता, उसे कैसे दंडित किया जाए, क्योंकि टोल टैक्स छोड़ने वाले वाहन मालिक को दंडित करने का कोई कानूनी प्रावधान नहीं है. उन्होंने कहा कि इसे भी कानून के दायरे में लाने की जरूरत है. गडकरी ने इस बात पर भी जोर दिया कि जिन वाहनों में ऐसी नंबर प्लेट नहीं होंगी, उन्हें इन्हें लगवाने के लिए एक निश्चित समय दिया जाएगा।

अब 97 फीसदी कलेक्शन फास्टैग से
सरकार द्वारा टोल टैक्स में कमी के लिए फास्टैग लागू करने के बाद टैक्स में लगने वाले समय के साथ-साथ टोल प्लाजा पर लगने वाली लंबी लाइनों से भी काफी हद तक राहत मिल गई है। वर्तमान में राजमार्गों पर लगभग 40,000 करोड़ रुपये के कुल टोल टैक्स का 97 प्रतिशत FASTags के माध्यम से एकत्र किया जा रहा है। वहीं, तीन फीसदी टैक्स नकद या कार्ड से वसूला जा रहा है.