SIM Card: 1 जनवरी से बदल जाएंगे सिम कार्ड से जुड़े नियम, सिर्फ इन लोगों को मिलेगा नया सिम

 
1 जनवरी से बदल जाएंगे सिम कार्ड से जुड़े नियम, सिर्फ इन लोगों को मिलेगा नया सिम

SIM Card: आने वाले साल से नए सिम कार्ड खरीदने के नियमों में बदलाव होने जा रहा है। यह बदलाव 1 जनवरी 2024 से लागू किया जाएगा। दूरसंचार विभाग की ओर से इसके लिए अधिसूचना जारी की गई। जिसके मुताबिक, नए साल से बिना e-KYC के नया सिम नहीं मिलेगा.

ई-केवाईसी कौन करेगा?
सिम खरीदने के लिए ई-केवाईसी केवल दूरसंचार विभाग द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा अन्य सभी नियम यथावत रहेंगे। अभी तक दस्तावेजों के सत्यापन के बाद ही नया सिम कार्ड मिलता था। लेकिन नए साल में ग्राहकों को दस्तावेजों के सत्यापन के लिए ई-केवाईसी करानी होगी।

विक्रेताओं का सत्यापन भी जरूरी है
दूरसंचार विभाग ने अगस्त महीने में ही इन नियमों की घोषणा की थी। लेकिन इन्हें लागू करने में देरी हुई. अब ये नियम नए साल से लागू होंगे. जिसमें विक्रेताओं को भी सत्यापन कराना जरूरी है। जो भी ग्राहक सिम खरीदेगा उसका सबसे पहले बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन किया जाएगा। जानकारी के सत्यापन के बाद ही उन्हें सिम आवंटित किया जाएगा।

पुरानी पद्धतियों पर पूर्ण प्रतिबंध

वर्तमान में केवल कागज आधारित केवाईसी की जाती है। लेकिन नए साल से इस पर पूरी तरह से रोक लग जाएगी. देश में डिजिटलाइजेशन बढ़ रहा है. जिसके चलते इस सिस्टम को डिजिटल करने की योजना बनाई गई. इतना ही नहीं, पेपर केवाईसी में काफी समय लगता है और यह एक महंगी प्रक्रिया भी है। इसलिए ऑनलाइन KYC करने से टेलीकॉम कंपनियों के खर्चे भी कम हो सकते हैं.

यह नियम क्यों लागू किया गया?
बड़े अपराध और फर्जी सिम के जरिए लोगों से पैसे ठगने के कई मामले सामने आ चुके हैं। कागज आधारित सिम खरीदने के आसान नियमों और विक्रेताओं के समय-समय पर सत्यापन की कमी के कारण, कई लोग थोक में सिम खरीदते थे और उनका दुरुपयोग करते थे। ऐसे सभी तरह के फ्रॉड को रोकने के मकसद से e-KYC का नियम लागू किया जा रहा है. ताकि फर्जी नंबरों के जरिए होने वाली धोखाधड़ी को रोका जा सके.