अब Truecaller पर नहीं मिलेगी यूजर के नाम की जानकारी, जानिये क्यों बंद होने वाला है truecaller

 
 अब Truecaller पर नहीं मिलेगी यूजर के नाम की जानकारी, जानिये क्यों बंद होने वाला है truecaller
आज कल सभी लोग स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं जिसमें कई तरह के फीचर्स यूजर्स की सुविधा के लिए रखा जाता है ऐसा ही एक फीचर है ट्रूकॉलर जिसमें कॉल करने वाले यूजर का नाम सामने स्क्रीन पर डिस्प्ले होता है 

लेकिन सरकार ने अब फैसला लिया है जिससे अब कॉल करने वाले के नाम की जानकारी नहीं मिलेगी। यह फैसला प्राइवेसी और डेटा ब्रीच की समस्या को हल करने के लिए लिया गया है।

नए नियमों के तहत कंपनियों को यूजर के नाम की जानकारी नहीं दिखानी होगी। इससे Truecaller जैसे ऐप्स का यूज बढ़ सकता है। स्मार्टफोन आने के साथ नए-नए फीचर्स भी यूजर्स को दिए जाते हैं। एक ऐसा ही फीचर है जिसमें यूजर को फोन नंबर के साथ कॉलर का नाम नजर आता है। लेकिन अब सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है।

इसमें कॉल करने वाले यूजर का नाम किसी को नजर नहीं आएगा। नए बिल में CNAP को अनिवार्य वाली लिस्ट से हटा लिया गया है। यानी अब ये पॉइंट अनिवार्य नहीं होगा।

हालांकि इसको लेकर सरकार की तरफ से कोई ऑफिशियल जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन प्राइवेसी और डेटा ब्रीच को लेकर लगातार नए नियमों पर काम किया जा रहा है।

अब नेटवर्क कंपनियां किसी भी यूजर का नाम नहीं दिखा पाएंगी। ये नियम सभी कंपनियों के लिए एक जैसा था। लेकिन अब ये लिस्ट से हटा लिया गया है।

इस नियम के बदलने से यूजर्स को अपनी प्राइवेसी पर और भी नियंत्रण मिलेगा। यह फैसला व्यक्तिगत जानकारी के लिए लिया गया है ।

सरकार का ये फैसला Truecaller से संबंधित नहीं है। जबकि Truecaller का यूज बढ़ सकता है। क्योंकि लोग अब इसकी वजह से अन्य ऐप्स का ज्यादा इस्तेमाल करने लगेंगे। इसकी मदद से यूजर की जानकारी भी आसानी से हासिल की जा सकती है। साथ ही फिलहाल Truecaller का यूज करने के लिए कोई भुगतान भी नहीं करना होता है। यही वजह है कि इसे काफी लोग यूज भी करते हैं। यानी ये पूरी तरह से सरकार के द्वारा लिया गया फैसला है।