IMD Weather Alert: अगले 24 घंटे में कैसा रहेगा मौसम, कहां कहां होगी बारिश, देखें मौसम पूर्वानुमान

 
अगले 24 घंटे में कैसा रहेगा मौसम, कहां कहां होगी बारिश, देखें मौसम पूर्वानुमान

मौसम प्रणाली: दक्षिण पूर्व अरब सागर पर निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। संबद्ध चक्रवाती परिसंचरण औसत समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर तक फैला हुआ है।

निम्न दबाव क्षेत्र से जुड़े चक्रवाती परिसंचरण से केरल के उत्तरी तट और दक्षिणी कर्नाटक तट तक एक ट्रफ रेखा फैली हुई है।

दक्षिण श्रीलंका तट के पास दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी पर एक चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है। समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर तक फैला हुआ है।

पश्चिमी विक्षोभ को जम्मू कश्मीर और उत्तरी पाकिस्तान पर एक चक्रवाती परिसंचरण के रूप में देखा जाता है।

प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण दक्षिण हरियाणा पर है। एक ट्रफ रेखा उत्तरी कोंकण और गोवा से दक्षिणी हरियाणा पर चक्रवाती परिसंचरण तक फैली हुई है।

पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल

लक्षद्वीप, केरल, तटीय कर्नाटक, आंतरिक तमिलनाडु, मध्य और पूर्वी उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हुई।
तटीय तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट, रायलसीमा और दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।

उत्तर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान और बिहार के कुछ हिस्सों में बहुत घना कोहरा छाया रहा।

मध्य प्रदेश और त्रिपुरा में घना कोहरा छाया रहा।

उत्तरी राजस्थान के अधिकांश हिस्सों, उत्तरी मध्य प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों में शीत दिवस से लेकर गंभीर शीत दिवस की स्थिति रही।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि

लक्षद्वीप, केरल और तटीय कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के दक्षिणी हिस्सों, आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, उत्तरी छत्तीसगढ़, पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड के कुछ हिस्सों और बिहार में हल्की से मध्यम बारिश संभव है।

गोवा और दक्षिण मध्य महाराष्ट्र में 1 या 2 स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है।

उत्तरी राजस्थान, हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों में शीत दिवस से लेकर गंभीर शीत दिवस की स्थिति जारी रह सकती है।

उत्तर प्रदेश में कोल्ड डे की स्थिति बन सकती है। पूर्वी राजस्थान में एक या दो स्थानों पर शीत लहर की स्थिति संभव है।