किसान आंदोलन ‘2.0’, दिल्ली में एक महीने के लिए धारा 144, सिंघु-टिकरी बॉर्डर पर आज से ट्रैफिक बंद

 
 किसान आंदोलन ‘2.0’, दिल्ली में एक महीने के लिए धारा 144, सिंघु-टिकरी बॉर्डर पर आज से ट्रैफिक बंद

Dhara 144: किसान आंदोलन को देखते हुए राजधानी दिल्ली में धारा 144 लाग दी गई है। हरियाणा से जुड़े दिल्ली के सभी बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। पंजाब-हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर सीमेंट की स्लैब रखी जा रही हैं। हरियाणा-दिल्ली के सिंघु व टिकरी बॉर्डर पर बैरिकेडिंग कर दी गई है।

दिल्ली में एक महीने के लिए धारा 144

पंजाब और हरियाणा के 26 किसान संगठनों के 13 फरवरी के कूच को देखते हुए दिल्ली में एक महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई है। दिल्ली में भीड़ जुटाने, लाउडस्पीकर और ट्रैक्टरों की एंट्री बैन कर दी है। इसके साथ हथियारों से लेकर लाठी-पत्थर भी दिल्ली में नहीं ले जाने दिए जाएंगे।

शाम 5 बजे होगी बैठक

इस बीच चंडीगढ़ में आज शाम 5 बजे किसानों की फसल पर MSP गारंटी कानून समेत अन्य मांगों पर केंद्रीय मंत्रियों पीयूष गोयल, अर्जुन मुंडा, नित्यानंद राय से बैठक होगी।

सभी बॉर्डर सील

किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए पंजाब और हरियाणा के शंभू, खनौरी, सिंघु, टिकरी समेत सभी बॉर्डर सील किए जा चुके हैं। सीमेंट के स्लैब, कंटीली तारें, कीलें लगाने के साथ खुदाई की गई है। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में स्थित गाजीपुर बॉर्डर पर भी लोहे के बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं। धारा-144 लागू कर दी। UP को दिल्ली से जोड़ने वाले नेशनल हाईवे-9 की सर्विस लेन बंद कर दी है।

BSF और CRPF की 64 कंपनियां भेजी

हरियाणा में हालात संभालने के लिए केंद्र ने BSF और CRPF की 64 कंपनियां भेजी हैं। भारतीय किसान यूनियन उगराहां गुट के नेता जोगिंदर सिंह उगराहां और भारतीय किसान यूनियन लक्खोवाल के नेता हरिंदर सिंह ने 16 फरवरी को भारत बंद का ऐलान किया है।

हरियाणा में 3 टेंपरेरी जेलें बनाई

हरियाणा सरकार ने किसानों को रोकने से लेकर गिरफ्तारी तक की तैयारी कर ली है। इसके लिए सिरसा के चौधरी दलबीर सिंह इंडोर स्टेडियम और गुरू गोबिंद सिंह स्टेडियम डबवाली में 2 टेंपरेरी जेलें बनाई हैं। राज्यपाल ने इसके लिए गृह विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी भी दे दी है।

सिंघु-टिकरी पर आज से ट्रैफिक बंद

पिछली बार आंदोलन का केंद्र रहे सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर आज किसी भी समय आवाजाही बंद कर दी जाएगी। सबसे पहले ट्रक और अन्य मालवाहक गाड़ियों को बंद किया जाएगा। 13 फरवरी यानी मंगलवार को इसे सभी वाहनों के लिए बंद कर दिया जाएगा। इस दौरान बसें और अन्य वाहन KMP कुंडली बॉर्डर से जाएंगी।

हरियाणा के 7 जिलों में इंटरनेट बंद

हरियाणा में कानून व्यवस्था सुचारु रखने के लिए अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, फतेहाबाद, सोनीपत, झज्जर, पंचकूला, जींद, हिसार और चंडीगढ़ समेत 15 जिलों में धारा 144 लगाई गई है। ट्रैक्टर ट्रॉली पर किसी भी तरह के प्रदर्शन करने पर रोक है। साथ ही पुलिस की टीमें सोशल मीडिया पर भी अफवाह फैलाने वालों पर नजर रख रही है। हरियाणा के अंबाला, कुरुक्षेत्र, हिसार, कैथल, जींद, फतेहाबाद, डबवाली समेत सिरसा जिले में 13 फरवरी की रात 11.59 बजे तक डोंगल, बल्क SMS और इंटरनेट पर रोक लगाई गई है।

पंजाब से 10 हजार ट्रैक्टर-ट्रॉली आने की संभावना

13 फरवरी को पंजाब के किसान 10 हजार ट्रैक्टर ट्रॉलियों पर दिल्ली जाने के लिए हरियाणा में दाखिल होंगे। इसके लिए शंभू बॉर्डर, डबवाली और खनौरी बॉर्डर को चुना गया है। अंबाला में आपात स्थिति से निपटने व कानून व्यवस्था बनाने के लिए चार कंपनियां एल्फा, ब्रेवो, चार्ली व डेल्टा का गठन किया गया है। चारों कंपनियों में 428 जवान होंगे।

13 फरवरी से किसान आंदोलन बुलाया गया

दिल्ली में 13 फरवरी से किसान आंदोलन बुलाया गया है। ऐसे में दिल्ली कूच करने से पहले ही किसान नेताओं को रोका जा रहा है। मध्यप्रदेश के नर्मदापुरम और जबलपुर में किसान नेताओं की गिरफ्तारियां हुई हैं। धारा 151 (शांतिभंग) लगाकर किसान संगठनों के पदाधिकारियों को जेल भेजा जा रहा है। उन्हें जमानत नहीं दी जा रही है