दिल्ली-अलवर रैपिड रेल कॉरिडोर में 4 स्टेशन होंगे कम, बदल जाएगा रूट, तुरंत देखें स्टेशनों की लिस्ट

 
दिल्ली-अलवर रैपिड रेल कॉरिडोर में 4 स्टेशन होंगे कम, बदल जाएगा रूट, तुरंत देखें स्टेशनों की लिस्ट

रीजनल रेल ट्रांजिट सिस्टम के दिल्ली-अलवर कॉरिडोर का रूट बदला जा सकता है. हालांकि अभी इस पर अंतिम फैसला नहीं हुआ है, लेकिन राष्ट्रीय राजधानी परिवहन निगम ने नए रूट के जियोटेक्निकल सर्वे के लिए टेंडर जरूर जारी कर दिया है. आरआरटीएस ट्रेन की परिचालन गति 160 किमी प्रति घंटे और औसत गति 100 किमी प्रति घंटे होगी और यह हर 5- 10 मिनट की आवृत्ति पर उपलब्ध होगी।

यह मार्ग 71 किमी का होगा
अब इस रूट को पहले चरण में शाहजहाँपुर-नीमराना-बहरोड़ (एसएनबी) की बजाय धारूहेड़ा तक ले जाया जा सकता है। इससे यह ट्रैक 107 किमी की जगह 36 किमी घटकर 71 किमी रह जाएगा। इसके स्टेशन 17 से घटकर 13 हो जाएंगे। दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ कॉरिडोर के बाद अब नमो भारत ट्रेन को दिल्ली-अलवर रूट पर ही चलाने की योजना है।

नए रूट पर सर्वे के लिए टेंडर जारी
इस बदलाव के तहत पिछले हफ्ते एनसीआरटीसी ने एयरोसिटी से खेड़कीदौला और धारूहेड़ा तक नए रूट के जियोटेक्निकल सर्वे के लिए टेंडर भी जारी कर दिया है. फरवरी में टेंडर दिया जाएगा। टेंडर में यह सर्वे छह महीने में पूरा करने को कहा गया है. बताया जा रहा है कि नए रूट पर अंतिम बातचीत के साथ ही इसे केंद्र सरकार की मंजूरी भी मिल जाएगी.

धारूहेड़ा में डिपो बनाया जाएगा
धारूहेड़ा में नमो भारत का एक बड़ा डिपो भी बनाया जाएगा. इसकी योजना पहले से ही थी. दिल्ली-अलवर ट्रैक के लिए यह डिपो पहले चरण में ही तैयार कर लिया जाएगा।

यह कार्य प्रथम चरण में किया जाएगा
सूत्रों के मुताबिक पहले चरण में इसे सराय काले खां से धारूहेड़ा तक ले जाने की बात चल रही है. इसमें भी पहले कापसहेड़ा को एयरोसिटी से सरहौल होते हुए नेशनल हाईवे तक लाने की योजना थी, लेकिन अब एयरोसिटी के बाद भी नेशनल हाईवे पर ही एलिवेटेड ट्रैक बनाया जाएगा। इस पर एनएचएआई के अधिकारियों से बातचीत चल रही है। नये रूट पर अधिक यात्री मिलने की संभावना है. ट्रेन का प्रस्तावित रूट कम होने से चार स्टेशन भी कम हो जायेंगे.

एनसीआर परिवहन निगम के अधिकारियों का कहना है कि इस कॉरिडोर पर आरआरटीएस स्टेशनों के यात्रियों के लिए मल्टी-मॉडल इंटीग्रेशन की सुविधा भी प्रदान की जाएगी। इसका मतलब है कि सराय काले खां स्टेशन पर मेट्रो रेल, रेलवे स्टेशन और आईएसबीटी के साथ एकीकरण भी शामिल होगा।

पहले 17 स्टेशन थे
सराय काले खां, आईएनए, मुनिरका, एयरोसिटी, उद्योग विहार, सेक्टर 17, राजीव चौक, खेड़कीदौला, मानेसर, पंचगांव, बिलासपुर चौक, धारूहेड़ा, एमबीआईआर, रेवाड़ी, बावल, एसएनबी।

अब ये 4 स्टेशन कम हो जाएंगे
एमबीआईआर, बावल, रेवाड़ी, एसएनबी।