Home राजनीति स्कूलों में गिरता शिक्षा का स्तर चिंता का विषय- अभय चौटाला

स्कूलों में गिरता शिक्षा का स्तर चिंता का विषय- अभय चौटाला

2 second read

Chaupal Tv, Chandigarh

इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने कहा कि शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा जिन स्कूलों में शिक्षा का स्तर दिन-प्रतिदिन गिरता जा रहा है उनकी समीक्षा करने के लिए शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों द्वारा कुरुक्षेत्र में बैठक करना तो ऐसा लगता है जैसे जब किसी को प्यास लगे तो प्यास बुझाने के लिए वह कुआं खोदने बारे सोचे। बड़ा अजीब लगता है कि गठबंधन की सरकार एक तरफ तो शिक्षा का व्यवसायीकरण करने में लगी है और दूसरी तरफ सरकारी स्कूलों में जो खामियां हैं उनकी तरफ आंखें मूंदे बैठी है। यह चिंता का विषय है।
वहीं दसवीं और बारहवीं के पहले समैस्टर के रिजल्ट ने शिक्षा विभाग की आंखें खोल दी हैं। हरियाणा में 438 स्कूल तो ऐसे हैं जिनका परिणाम मात्र 25 फीसदी से कम  रहा है और सात स्कूलों का परिणाम तो ज़ीरो ही रहा है।
इनेलो नेता ने कहा कि शिक्षा विभाग तो अब भ्रष्टाचार का अड्डा बनता जा रहा है। सैकड़ों करोड़ का छात्रवृत्ति घोटाला हर प्रदेशवासी की ज़ुबान पर है। प्रदेश की गठबंधन सरकार द्वारा शिक्षा के सुधार के लिए बैठकों पर तो खूब पैसा बर्बाद किया जा रहा है परंतु नतीजा ‘वही ढाक के तीन पात’ निकलता है।
वहीं अभय सिंह चौटाला ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि गठबंधन की सरकार शिक्षा का स्तर क्या सुधारेगी अभी तक तो मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल में आपस में तालमेल ही नहीं बन पाया है। जो सरकार अभी तक यह  तय न कर पाए कि उसकी प्राथमिकता क्या है और शिक्षा के स्तर सुधारने के लिए शिक्षा नीति क्या  है और कैसे उसमें बदलाव लाना है, उस जुगाड़ू सरकार से शिक्षक और शिक्षार्थी क्या उम्मीद कर सकते हैं।

Check Also

कोरोना महामारी के बीच मनोहर सरकार ने क्या-क्या बड़े फैसले लिये, देखिये पूरी लिस्ट

Sahab Ram, Chopal TV हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कोरोना वायरस के संकट से नि…