IAS Success Story : पांच बार हुईं असफल लेकिन नहीं मानी हार, छठवें प्रयास में नुपूर ने किया IAS बनने का सपना साकार, पढ़िए नुपूर की सफलता की कहानी
 

यूपीएससी के सफर में किसी को जल्दी सफलता मिल जाती है, तो किसी को इसमें काफी वक्त लग जाता है। आज आपको दिल्ली की रहने वाली नूपुर गोयल की कहानी बताएंगे, जिन्हें यूपीएससी में सफलता मिलने में 6 साल का वक्त लग गया। इस सफर के दौरान उन्होंने कई चुनौतियों का सामना किया और उनका डटकर मुकाबला किया।रिश्तेदारों ने उनको ताने भी मारे, लेकिन परिवार वालों का सपोर्ट मिला और इससे उन्हें मोटिवेशन मिला। आखिरकार उन्होंने अपनी गलतियों को सुधारा और सफलता प्राप्त कर ली।

Some get quick success in the UPSC journey, while some take a lot of time in it. Today we will tell you the story of Nupur Goyal, a resident of Delhi, who took 6 years to get success in UPSC. During this journey, she faced many challenges and fought them firmly. Relatives also taunted her, but got the support of family members and this gave her motivation. Eventually she rectified her mistakes and got success.

 IAS Nupur Goel Success Story 

कैसा रहा शुरुआती सफर 

नूपुर गोयल मूल रूप से दिल्ली की रहने वाली हैं और वे पढ़ाई में काफी होशियार थीं। इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने दिल्ली के टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। उसके बाद उन्होंने इग्नू से मास्टर डिग्री हासिल की। उनका हमेशा से ही यूपीएससी में जाने का सपना था और इसके लिए वे काफी लंबे समय से तैयारी कर रही थीं। कई बार वे असफल हुईं, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और आखिरकार अपना सपना पूरा किया।

Nupur Goyal is originally from Delhi and she was very smart in studies. After Intermediate, she obtained an engineering degree from the Technological University of Delhi. After that she did her master's degree from IGNOU. She always had a dream of appearing in UPSC and was preparing for it for a long time. Many times she failed, but she did not give up and finally fulfilled her dream.

 IAS Nupur Goel Success Story 

परिवार का मिला समर्थन 

जब यूपीएससी में कई बार असफलता मिली तो लोगों ने ताने मारने शुरू कर दिए। हालांकि इस दौरान उनके परिवार के लोगों ने सहयोग किया और उन्हें आगे तैयारी करने के लिए मोटिवेट किया। नूपुर कहती हैं कि यूपीएससी का सपना सिर्फ कैंडिडेट का नहीं, बल्कि पूरे परिवार का होता है। ऐसे में जितना मजबूत आपका सपोर्ट सिस्टम होगा, उतनी ही आपकी सफलता के चांस बढ़ जाएंगे।

When UPSC failed many times, people started taunting. However, during this time her family members supported and motivated her to prepare further. Nupur says that UPSC's dream is not only of the candidate, but of the entire family. In such a situation, the stronger your support system is, the more your chances of success will increase.

 IAS Nupur Goel Success Story 

दूसरे कैंडिडेट्स को नूपुर की सलाह 

नूपुर गोयल कहते हैं कि यूपीएससी में जाने से पहले यह तय करें कि आपको इस क्षेत्र में क्यों जाना है। अपनी वजह को लिखकर अपनी टेबल पर टांग लें। जब भी आप अपनी वजह को देखेंगे तो उससे मोटिवेशन मिलेगा। नूपुर कहती हैं कि कभी भी आपको असफलताओं से नहीं घबराना चाहिए और खुद पर भरोसा रखना चाहिए। आपको अपने परिवार का साथ मिलेगा तो आप और भी बेहतर करने के लिए प्रेरित होंगे। आप यूपीएससी की तैयारी के लिए रणनीति बनाएं और उसमें जुट जाएं। जब भी आपको सफलता मिले तो उसके बाद यह जरूर देखें कि कोई कमी कहां रह गई। दूसरे प्रयास में अपनी कमियों को सुधारें और बेहतर करें।