नौकरियां

Success Story: बेटी ने पापा से किया वादा किया पूरा, 22 की उम्र में बनी अफसर, जानिए इस आईएएस की सफलता की कहानी

Neetu Gorkela
23 Sep 2022 8:23 AM GMT
Success Story: बेटी ने पापा से किया वादा किया पूरा, 22 की उम्र में बनी अफसर, जानिए इस आईएएस की सफलता की कहानी
x
आज हम आपको ऐसी ही एक महिला अफसर की कहानी बताने जा रहे हैं जिन्होंने महज 22 साल की उम्र में यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली थी और अफसर बन गईं.

IAS सुलोचना मीणा राजस्थान के सवाई माधोपुर के आदलवाड़ा गांव की रहने वाली हैं. उनके पिता रामकेश मीणा रेलवे में अफसर और मां हाउसवाइफ हैं (IAS Sulochana Meena). सुलोचना दो बहनों में बड़ी हैं. वह अपने कॉलेज के दिनों में नेशनल सर्विस स्कीम यानी एनएसएस (NSS) की एक्टिव मेंबर रही हैं.


IAS सुलोचना मीणा ने दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) से पढ़ाई की है. उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के मिरांडा हाउस (Miranda House) कॉलेज से बॉटनी (Botany) में ग्रेजुएशन किया है. वह सेल्फ स्टडी को सफलता के लिए बेस्ट मानती हैं. उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपनी एक पोस्ट के कैप्शन में इस बात का जिक्र कि


सुलोचना मीणा ने कॉलेज की पढ़ाई के साथ ही यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) की तैयारी भी शुरू कर दी थी. वह उन लकी कैंडिडेट्स में से एक हैं, जिन्होंने अपने पहले प्रयास में मात्र 22 साल की उम्र में सफलता हासिल कर ली. उन्होंने अपने पिता से वादा किया था कि वह उनकी अफसर बिटिया बनकर दिखाएंगी.


यूपीएससी परीक्षा 2021 का रिजल्ट आते ही सुलोचना मीणा और उनके परिजनों का जोरदार तरीके से सम्मान किया गया था. उन्होंने ऑल इंडिया लेवल पर 415वीं तथा एसटी कैटेगरी में 6वीं रैंक हासिल की है.


पहले प्रयास में एसटी वर्ग में छठा स्थान प्राप्त कर सुलोचना ने सभी के लिए एक मिसाल कायम की है. अब तक 22 साल की उम्र में चयनित होने वाले जिले के लोगों में फीमेल कैटेगरी के तहत सुलोचना पहली कैंडिडेट हैं.

Next Story