Chopaltv.com
हरियाणा में ग्रुप डी में फर्जी ग्रेडेशन सर्टिफिकेट से नौकरी पाने वालों पर बड़ा फैसला
 

हरियाणा की सबसे बड़ी ग्रुप डी की भर्ती में फर्जी तरीके से फर्जी ग्रेडेशन सर्टिफिकेट के जरिये नौकरी पाने वालों को बड़ा झटका सरकार ने दिया है। इन कर्मचारियों को तुरंत प्रभाव से टर्मिनेट करने के आदेश जारी किये हैं।

जानकारी के मुताबिक ग्रुप डी की भर्ती में फर्जी ग्रेडेशन सर्टिफिकेट के जरिये करीब दो हजार लोगों के खेल कोटे से भर्ती होने की जानकारी मिली थी जिसके बाद जांच में सामने आया कि बड़े स्तर पर फर्जी तरीके से खेल कोटे के ग्रेडेशन सर्टिफिकेट प्राप्त किये गए थे और उनसे नौकरी पाई गई थी।

ग्रुप डी में खेल कोटे के तहत फर्जी ग्रेडेशन सर्टिफिकेट देने वाले खिलाड़ियों पर प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला। ग्रुप डी में भर्ती खिलाड़ियों पर सरकार का बड़ा फैसला।

ग्रेडेशन सर्टिफिकेट धांधली के बाद सरकार हुई सजग 

सरकार ने लिया बढ़ा फैसला 10/11/2020 के पत्र के तहत 2018 की सपोर्टस पालिसी के स्पोर्टर्सपर्सन कोटा के अंतर्गत ग्रुप डी केंडिडेट को 31/12/2020 तक ग्रेड्सशन सैटिफिकेट जमा कराने को कहा गया था


जिन भी लोगों ने इस तय तिथि के तहत नही करवाये है जमा सर्टिफिकेट उन पर गिरी गाज सरकार ने तुरंत प्रभाव से उन्हें सेवा से टर्मिनेट करने का लिया फैसला  


खाली होने वाली पोस्टों पर एलिजिबल वेटिंग लिस्ट  केंडिडेट को मौका देने के लिए सरकार ने लिया बढ़ा फैसला 2018 की स्पोर्ट्स पालिसी के तहत एलिजिबल केंडिडेट 30/11/2021 तक करा सकेंगे अपने ग्रेडेशन सर्टिफिकेट जमा

स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट वेटिंग लिस्ट के कैंडिडेट को 31/10/2021 तक कर सकेगा ग्रेडेशन सर्टिफिकेट जारी
उम्मीदवारों को 31/11/2021 तक जमा कराने है ग्रेडेशन सर्टिफिकेट

आपको बता दें कि हरियाणा में ग्रुप डी के 18 हजार 218 पदों पर भर्ती की गई थी जिसमें खेल कोटे से कई पदों पर भर्ती हुए लोगों के खेल सर्टिफिकेट को लेकर विवाद हुआ था।
देखिये आदेश

Group D sports Quota candidates latter-page-001