पति को जेल हुई तो रिश्तेदारों ने बनाया हवस का शिकार, बेटी पैदा हुई तो थाने पहुंचा केस, अरेस्ट
 

हरियाणा के सोनीपत जिले से रिश्तों को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला के पति को जेल हुई तो उसे उसके ही रिश्तेदारों ने हवस का शिकार बना डाला और इस के बाद महिला गर्भवती हो गई। आरोप है कि रिश्तेदारों ने महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। जिससे महिला गर्भवती हो गई और उसने एक बच्ची को जन्म दिया है।

पीड़िता ने आरोपियों के खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया है। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। सोनीपत की कुंडली थाना क्षेत्र में किराए पर रहने वाली महिला ने कुंडली थाना पुलिस को बताया कि उसका पति वर्ष 2018 में दुष्कर्म के एक मामले में जेल में चला गया था। पति के जेल जाने के बाद वह और उसके दो बच्चे घर पर रहते थे।

उसका नंदोई भूपेंद्र भी पड़ोस में ही किराए पर रहता था। महिला का आरोप है कि भूपेंद्र ने अपने तीन साथियों रमेश, राम सिंह व दर्शन के साथ मिलकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म व सामूहिक दुष्कर्म किया। जिससे वह गर्भवती हो गई। उसने एक बेटी को जन्म दिया। यह बच्ची अभी 2 साल की है। अभी जब उसका पति जेल से जमानत पर बाहर आया तो उसे घर में तीन बच्चे मिले। जिस पर उसने पत्नी से पूछताछ की तो पत्नी ने सामूहिक दुष्कर्म की जानकारी दी।

जिसके बाद महिला कुंडली थाना में पहुंची और चारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया। कुंडली थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रवि कुमार ने बताया कि पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद आरोपी भूपेंद्र में रमेश को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश कर 3 दिन के रिमांड पर लिया है।