Chopaltv.com
सोनीपत में दर्दनाक हादसा, पति पत्नी और बेटे की ट्रेन से कटने से मौत
 

हरियाणा के सोनीपत में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है। यहां पर पति पत्नी और बेटे की ट्रेन के आगे कटने से मौत हो गई है। घटना के बाद जीआरपी पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है।

जानकारी के मुताबिक सोनीपत के मूलरूप से गांव बिधलान हाल वेस्ट रामनगर निवासी गोदीराम (46) का किसी बात को लेकर अपनी पत्नी सुनीता (42) के साथ झगड़ा हो गया। 

इसी कहासुनी में गोदीराम आत्महत्या करने रेलवे लाइन की तरफ चल पड़ा। पत्नी सुनीता व बेटा शुभम (12) उसे बचाने के लिए पीछे-पीछे दौड़ पड़े। शुगर मिल के पास पहुंचने पर गोदीराम ने दिल्ली से कुरुक्षेत्र जा रही गीता जयंती एक्सप्रेस के आगे कूद आत्महत्या कर ली।

गोदीराम को बचाने के प्रयास में उसकी पत्नी सुनीता व बेटा शुभम भी ट्रेन की चपेट में आ गए। हादसे में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई और तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

जीआरपी को बेटी पिंकी ने बताया कि घर पर दो दिन से कहासुनी चल रही थी, लेकिन रविवार दोपहर को सब ठीक था। पापा-मम्मी बात कर रहे थे। इसके बाद पापा बोले-चलो जरूरी काम से जाना है। पापा मुझे, मां सुनीता व भाई शुभम को बाइक पर बैठाकर चल पड़े। रास्ते में वह कुछ नहीं बोले। इसके बाद बाइक लेकर वह जाहरी फाटक वाले रास्ते पर चल पड़े। कुछ दूर चलने पर बाइक रोक दी। 

पापा ने उन्हें वहीं रुकने को कहा। भाई शुभम व उसे वहीं खड़ा करके माता-पिता रेलवे लाइन की तरफ चले गए। पापा-मम्मी आपस में बातें कर रहे थे। शुभम और पिंकी बाइक के पास खड़े थे। ट्रेन आई तो पापा जाहरी फाटक के पास पटरी की तरफ भागकर चले गए। 

उनके पीछे मम्मी भी भागकर ट्रैक पर पहुंच गई। यह सब मैंने देखा। मैं वहीं बदहवास खड़ी रही। पापा व मम्मी को ट्रेन की तरफ दौड़ता देख भाई शुभम भी उनकी तरफ भाग गया। पापा-मम्मी ट्रेन से कट गए। उन्हें बचाने के प्रयास में भाई शुभम को ट्रेन ने फेंक दिया और तीनों की मौत हो गई।