खुशियां मातम में बदली- ट्रैक्टर ट्राली ने अचानक लिया ब्रेक, पीछे से टकराई कार, जीजा-साले समेत 3 की मौत
 

हरियाणा के यमुनानगर में एक दर्दनाक हादसे में जीजा साले समेत तीन लोगों की मौत हो गई है। सभी लोग कार में सवार होकर शादी समारोह में हिस्सा लेने के लिए जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही शादी की खुशियां मातम में बदल गई। 

जानकारी के मुताबिक यमुनानगर के बिलासपुर थाना क्षेत्र के गांव कराली मोड पर ट्रैक्टर ट्राली व कार की भिडंत हो गई। जिसमें कार सवार पांच युवक घायल हो गए। सभी घायलों को अंबाला के मुलाना मेडिकल कालेज में दाखिल कराया।

जहां पर बूटगढ़ निवासी 28 वर्षीय मनदीप व उसके जीजा 30 वर्षीय जितेंद्र को चिकित्सकों ने मृत बता दिया। जबकि दूसरे जीजा नवीन को पीजीआइ चंडीगढ़ के लिए रेफर किया गया था। उसकी रविवार की सुबह पीजीआइ में ही इलाज के दौरान मौत हो गई। मामले में बिलासपुर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। 

yamunanagar_road_accident

गांव बूटगढ़ निवासी हिमांशु के चचेरे भाई राहुल का शनिवार को मंढ़ा था। मंढा का कार्यक्रम मारवां कलां में पैलेस में हुआ था। रात को बूटगढ गांव में ही डीजे का कार्यक्रम था। यहां से रात करीब साढ़े 12 बजे हिमांशु अपने जीजा हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब के गांव कयारदा निवासी जितेंद्र, दूसरे जीजा कुरुक्षेत्र के गांव बहौली निवासी नवीन, चचेरे भाई बूटगढ़ निवासी मनदीप शर्मा व अंबाला के गांव भडौंग निवासी जतिन शर्मा के साथ स्वीफ्ट कार में साढौरा के ग्रीन वैली रेस्टोरेंट में आराम करने के लिए चले थे। यह रेस्टोरेंट हिमांशु के पिता रमेश चलाते हैं। रात को उन्हें यही पर रूकना था। जिस कार में वह चले थे।

वह जितेंद्र की थी। कार को मनदीप चला रहा था। उसके साथ वाली सीट पर आगे नवीन बैठा था। पीछे हिमांशु, जितेंद्र व जतिन शर्मा बैठे थे। जब करीब एक बजे बिलासपुर साढौरा रोड पर गांव कुराली के पास पहुंचे, तभी सामने से अचानक ट्रैक्टर ट्राली आई। जैसे ही मनदीप ने कार को ट्रैक्टर ट्राली से क्रोस करने की कोशिश की, तो चालक ने ट्रैक्टर को एकदम से सड़क के बीच में ब्रेक लगा दी। जिससे कार सीधा ट्राली में जाकर घुस गई।

इस हादसे में सभी घायल हो गए। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे के बाद आरोपित चालक ट्रैक्टर ट्राली लेकर भाग निकला। राहगीरों ने किसी तरह से उन्हें कार से बाहर निकला और परिवार के लोगों को सूचना दी।

सूचना मिलते ही मनदीप व हिमांशु के परिवार के लोग घटनास्थल पर पहुंचे और घायलों को अंबाला के मुलाना मेडिकल कालेज में दाखिल कराया। जहां पर जितेंद्र व मनदीप को चिकित्सकों ने मृत बता दिया। जबकि नवीन काे पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर किया गया था। उसकी पीजीआइ में मौत हुई।