सिंदूर लगाने से पहले ही बेहोश हो गया दूल्हा, शादी हो गई रद्द, फिर बारातियों का हुआ ये हाल
 


पटना के दानापुर से एक अजीब मामला सामने आया है। यहां अपनी ही शादी में दूल्हे को मंडप में ही दूल्हे को मिर्गी का दौरा आ गया और वह बेहोश होकर गिर गया। दूल्हे को बेहोश देख दुल्हन दंग रह गई। वह जब तक कुछ समझ पाती लड़की वाले हंगामा करने लगे। उनका कहना था कि दूल्हे को मिर्गी की बीमारी है। शादी कैंसिल कीजिए और शादी में लगे खर्च वापस कीजिए। शादी में लगभग 11 लाख रुपए खर्च हुए हैं। लड़के वालों ने इस बात विरोध किया और कहा कि लड़का स्वस्थ्य है, उसे कोई बीमारी नहीं है। यह सुनते ही लड़की वालों ने दूल्हा समेत सभी बारातियों को बंधक बना लिया। बाद में पुलिस के हस्तक्षेप के बाद मामला सुलझा और दूल्हा समेत बाराती अपने घर लौटे।

हजारीबाग से आए थे बाराती

घटना दानापुर के पंचशील नगर की है। रविवार रात हजारीबाग से लगभग 25 की संख्या में बाराती लड़की पक्ष के घर पहुंचे थे। देर रात दूल्हे ने गले में वरमाला डाला। सिंदूरदान के ठीक पहले अचानक लड़का मंडप में बेहोश हो गया। लड़के के अचानक इस तरह बेहोश होने पर लड़की के परिजनों ने सोचा कि लड़के को कोई गंभीर बीमारी है और इसे लेकर शादी के मंडप में ही हो हंगामा शुरू हो गया।

दूल्हे की मिर्गी वाली बात हम सब से छिपाई

लड़की पक्ष के लोगों का कहना है कि लड़के वालों ने दूल्हे के मिर्गी वाली बात हम सब से छिपाई है। यह गलत है। मंडल में सबके सामने दूल्हे को मिर्गी का दौरा आ गया, इसलिए यह अब शादी नहीं हो सकती है। इस पूरी शादी में उनका कुल 11 लाख रुपए का खर्च हुआ है और जब तक वह पैसा नहीं लौट आते हैं तब तक यहां से नहीं जाने दिया जाएगा।

दूसरी तरफ दूल्हे के भाई ने बताया कि उनके भाई को किसी तरह की कोई बीमारी नहीं है और वह मोबाइल दुकान में सेल्समैन के रूप में काम करता है। ठंड लगने की वजह से उसकी तबीयत बिगड़ी गई और चक्कर खाकर गिर गया। उन्होंने इसकी सूचना दानापुर थाने को दी है।

वहीं मामले पर दारोगा अर्चना कुमारी ने बताया कि लड़की पक्ष के लोग मुआवजे के रूप में शादी के खर्चे की मांग कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आपसी सहमति के बाद दोनों पक्ष बातें मान गए हैं। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।