हरियाणा में स्कूली बच्चों की हुई मौज, अब स्कूल से घर तक मिलेगी परिवहन सुविधा

 
 हरियाणा में स्कूली बच्चों की हुई मौज, अब स्कूल से घर तक मिलेगी परिवहन सुविधा
हरियाणा के स्कूली छात्रों के लिए अच्छी खबर है. क्योंकि आज से शिक्षा विभाग ने मुख्यमंत्री छात्र परिवहन योजना की शुरू हो गयी है. इस योजना के शुरू होने से दूरदराज से आने वाले स्कूल के विद्यार्थियों को परिवहन का लाभ मिलेगा. दूरी की वजह से जो छात्र-छात्राएं स्कूल नहीं आ पाते थे, उन्हें अब स्कूल आने में सुविधा होगी.

हरियाणा शिक्षा विभाग ने शिक्षा का स्तर और सुधारने के उद्देश्य से प्रदेश के स्कूलों में मुख्यमंत्री छात्र परिवहन योजना शुरू की है. इस योजना के शुरू होने से रिमोट इलाके से आने वाले स्कूल के विद्यार्थियों को परिवहन का लाभ मिलेगा. उन्हें स्कूल तक आने तक सुविधा मिलेगी और स्कूल से घर जाने की भी सुविधा मिलेगी. इसके लिए पायलट प्रोजेक्ट शुरू कर दिया गया है. 

भिवानी के जिला शिक्षा अधिकारी नरेश मेहता ने बताया कि "शिक्षा विभाग द्वारा शुरू की गई ये स्कीम फि़लहाल प्रत्येक जि़ला के एक ब्लॉक से शुरू की गई है. भिवानी की अगर बात करें तो बवानीखेड़ा के 23 विद्यालयों के 896 बच्चे इसका लाभ उठाएंगे. 

बच्चों को स्कूल जाने के लिए अब वाहन का इंतजार नहीं करना होगा". वहीं शिक्षक भी इस योजना से खुश है. उनका कहना है कि इससे बच्चों को काफी फायदा होगा.अध्यापिक सुनीता ने बताया कि बच्चे सुरक्षित रहेंगे तथा समय पर स्कूल पहुंच पाएंगे.

मुख्यमंत्री छात्र परिवहन योजना क्या है?: 5 नवंबर, 2023 को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने करनाल जिले के रतनगढ़ गांव में जनसंवाद कार्यक्रम में ‘छात्र परिवहन सुरक्षा योजना’ के शुरू करने की घोषणा की थी. 

इस योजना के तहत दूरदराज के गांव में 50 से अधिक विद्यार्थी होने पर स्कूल जाने के लिये अब परिवहन विभाग की ओर से बस सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी. जिस गांव में 30 से 40 विद्यार्थी हैं वहां पर मिनी बस, जिस गांव में 5 से 10 विद्यार्थी हैं वहां पर ऑटो रिक्शा जैसी सुविधा मिलेगी. यह सुविधा विद्यार्थियों को नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जाएगी. इसका पैसा जिला शिक्षा विभाग के माध्यम से खर्च किया जाएगा.