Haryana Congress News: हरियाणा में लोकसभा चुनाव लड़ने के 250 कांग्रेस इच्छुक, इन बड़े नेताओं ने नहीं दिखाई दिलचस्पी, देखें

 
Haryana Congress News: हरियाणा में लोकसभा चुनाव लड़ने के 250 कांग्रेस इच्छुक, इन बड़े नेताओं ने नहीं दिखाई दिलचस्पी, देखें
हरियाणा में प्रमुख विपक्षी दल – कांग्रेस के कई नेता जहां लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए टिकट हासिल करने की जुगाड़ में हैं वहीं कई ऐसे दिग्गज नेता भी हैं, जो इस बार लोकसभा लड़ने के मूड़ में नहीं हैं। कुछ सीटों पर कांग्रेस नेताओं में टिकट को लेकर मारामारी भी देखने को मिल रही है। 

पार्टी ने लोकसभा चुनाव लड़ने के इच्छुक नेताओं से आवेदन मांगे थे। बुधवार को आवेदन जमा करवाने के आखिरी दिन तक पार्लियामेंट की 10 सीटों के लिए कुल 250 नेताओं द्वारा आवेदन किया गया।

रोहतक से लगातार तीन बार सांसद रहे और वर्तमान में राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने इस बार भी रोहतक से चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने बाकायदा टिकट के लिए आवेदन भी किया है। 

पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा अंबाला के अलावा सिरसा से भी सांसद रहीं कुमारी सैलजा इस बार लोकसभा चुनाव लड़ने के मूड़ में नहीं हैं। सार्वजनिक मंचों पर भी सैलजा ऐलान कर चुकी हैं कि इस बारे वे विधानसभा का चुनाव लड़ेंगी।

इसीलिए उन्होंने इस बार किसी सीट के लिए आवदेन नहीं किया है। हालांकि इस तरह की भी चर्चाएं सैलजा समर्थकों में हैं – अगर पार्टी हाईकमान ने कहा तो सैलजा लोकसभा चुनाव लड़ने से भी पीछे नहीं हटेंगी। 

2019 में गुरुग्राम से लोकसभा चुनाव लड़ चुके पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव इन दिनों पार्टी से नाराज़ चल रहे हैं। वे इस बात से आहत हैं कि उन जैसे वरिष्ठ नेताओं को भी टिकट के लिए आवेदन करने को कहा जा रहा है। बेशक, वे गुरुग्राम से चुनाव लड़ना चाहते हैं, लेकिन आवेदन प्रक्रिया से नाराज़गी के चलते उन्होंने टिकट के लिए आवेदन ही नहीं किया है।

कांग्रेस गलियारों में इस तरह की भी चर्चाएं हैं कि पार्टी नेतृत्व वरिष्ठ नेताओं को लोकसभा चुनाव लड़वाने का मन रखता है। हरियाणा में नेतृत्व के मनसूबे सिरे चढ़ेंगे, इसके कम ही आसार हैं। 

सैलजा ही नहीं, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला, पूर्व सीएम और विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित और भी कई वरिष्ठ नेताओं ने आवेदन नहीं किए हैं। पार्टी के 30 विधायकों में से दो – आफताब अहमद और राव दान सिंह ने लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है।

राव दान सिंह गुरुग्राम के साथ-साथ भिवानी-महेंद्रगढ़ से भी चुनाव लड़ने के इच्छुक हैं। वहीं नूंह विधायक आफताब अहमद गुरुग्राम लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने की इच्छा रखते हैं। 

2009 में भिवानी-महेंद्रगढ़ से सांसद रही कांग्रेस की कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष श्रुति चौधरी ने इस सीट के लिए आवेदन किया है। पूर्व सांसद डॉ़ सुशील इंदौरा तथा चरणजीत सिंह रोड़ी ने सिरसा लोकसभा से दावा ठोका है। रोड़ी ने 2014 में इनेलो टिकट पर सिरसा से चुनाव जीता था। वर्तमान में उनकी गिनती सैलजा समर्थकों में होती है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश ‘जेपी’ ने हिसार से चुनाव लड़ने की दावा ठोका है। जेपी यहां से सांसद रह चुके हैं। हिसार से और भी कई नेताओं से टिकट के लिए आवेदन किया है। इसमें सेवानिवृत्त आईएएस चंद्रप्रकाश भी शामिल हैं।

कुलदीप शर्मा ने बेटे चाणक्य के लिए करनाल से मांगी टिकट
पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा भी इस बार लोकसभा चुनाव लड़ने के पक्ष में नहीं हैं। अलबत्ता वे अपने बेटे चाणक्य पंडित के लिए करनाल से टिकट मांग रहे हैं। चाणक्य ने टिकट के लिए आवेदन भी किया है।