Chopaltv.com
आज से खुलेंगे चौथी व पांचवी के स्कूल, इन नियमों का पालन करना होगा अनिवार्य
 

कोरोना महामारी की वजह से जहां जन-जीवन पूरी तरह बिगड़ गया था वहीं इसका सबसे ज्यादा असर बच्चों पर पड़ा था. जहां एक तरफ बच्चों की शिक्षा पर असर पड़ा है वहीं वैश्विक स्तर पर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. 

लेकिन एक बार फिर कोरोना की दूसरी लहर के बाद सब समान्य हो रहा है जिसके मद्देनजर प्राथमिक स्तर के बच्चों के लिए सरकार ने स्कूल खोलने का फैसला लिया है. जारी निर्देशो के अनुसार 1 सितबंर यानि आज से ही चौथी व पाचंवी क्लास के बच्चों की पढ़ाई शुरु होगी. सभी स्कूल सुबह 8 बजे से लेकर दोपहर साढ़े 12 बजे तक ही खुले रहेंगे

शिक्षा विभाग सभी पहलूओं पर गौर करने के बाद से स्कूल खोलने का निर्णय किया है. जिसके लिए विभाग ने कुछ गाइडलाइन्स भी जारी की है. 

शिक्षा विभाग ने कहा है कि स्कूल आने वाले बच्चों के लिए सबसे पहले मास्क अनिवार्य होगा. साथ ही स्कूलों को पूरी तरह से सैनिटाइजर किया गया है. विभाग ने बच्चों को स्कूल भेजने का फैसला पूरी तरह से परिजनों पर निर्भर किया है. शिक्षा विभाग ने कहा है कि अभिभावक चाहे तो अपने बच्चों तो स्कूल भेज सकते है. 

इसी के साथ स्कूलों को आदेश भी जारी किए गए है कि स्कूलों में बच्चों को पढ़ाई करवाते समय शारीरिक दूरी का भी विशेष ध्यान रखना होगा साथ ही एक क्लास रूम में 20 बच्चों को बैठाकर ही पढ़ाई करवाई जाएगी। शिक्षा विभाग ने स्कूलों को यह निर्देश भी दिए हैं कि प्रवेश द्वार पर ही बच्चों की थर्मल स्क्रीनिग कर तापमान नापा जाए. अगर कोई बच्चा तय मानक से अधिक तापमान पर पाया जाता है तो उसे तुरंत वापस घर भेज दिया जाए। 

इसी के साथ विभाग ने ऑनलाइन पढ़ाई का ऑप्शन भी खुला रहा है. विभाग ने कहा है कि यदि बच्चा ऑनलाइन शिक्षा से जुड़कर पढ़ाई जारी रखना चाहते है तो वह स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं है. वह ऑनलाइन भी पढ़ सकता है.
बता दें कि विभाग ने सभी अध्यापकों को वैक्सीन लगवाने के लिए निर्देश दिए गये हैं।

विभाग ने कहा है कि स्कूलों में तैनात अध्यापकों को वैक्सीन लगवाना जरूरी होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार अभी तक कुल 60 फिसदी अध्यापक ही वैक्सीन लगावाए हुए है. बता दें कि जहां कोरोना ने देश ही नहीं पूरे विश्व में एक तबाही मचाई है. जहां अब तक कुल 32,810,892 केस भारत में मिले है जिसमें से करीब 439,054 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है.