प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीएम मनोहर लाल की हुई मुलाकात, जानिये क्या रहा खास ?
 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में मुलाकात की है। यह मुलाकात करीब 40 मिनट तक चली है जिसमें कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई है। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री को राज्य सरकार द्वारा आरंभ की गई अनेक कल्याणकारी योजनाओं से अवगत करवाया।

मुलाकात के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री द्वारा हरियाणा सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की सराहना करने के लिए उनका आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अंतराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण दिया है और संभवतः प्रधानमंत्री ऑनलाइन माध्यम से मार्गदर्शन प्रदान कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री को राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई महत्वकांक्षी मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना से भी अवगत कराया। 29 नवंबर से 16 दिसंबर तक हरियाणा में अंत्योदय ग्राम उदय मेलों का आयोजना किया जाएगा, जिनमें परिवार पहचान पत्र में सत्यापित अति गरीब परिवारों को बुलाया जाएगा और उन्हें योजना के बारे में विस्तृत जानकारी दी जाएगी ताकि ऐसे 1 लाख परिवारों, जिनकी पारिवारिक आय 1.80 लाख रुपये सालाना से कम है, उनके उत्थान के बारे में व्यापक रूपरेखा तैयार की जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को आस -ऑटो अपील सॉफ्टवेयर से भी अवगत कराया। उन्होंने कहा कि पारदर्शिता और जवाबदेही सुनिश्चित करके अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को उसके घर-द्वार पर सरकारी सेवाओं और योजनाओं का लाभ पहुंचाने के मकसद से यह सॉफ्टवेयर लॉन्च किया गया है। आस के शुरू होने से आवेदक किसी सेवा के लिए आवेदन करते समय ही ऑटो अपील का विकल्प दे सकेगा। इससे उन्हें अपील करने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी और अपीलीय अधिकारी के पास स्वत: ही अपील पहुंच जाएगी।

मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा ने ड्रोन से मैपिंग करने के लिए ड्रोन इमेजिंग एंड इन्फारमेशन सर्विस आफ हरियाणा लिमिटेड (दृश्या) का भी गठन किया है। इससे वर्ष में 2 बार ड्रोन के जरिये मैपिंग कर सकते हैं, जैसे कृषि के नाते से मेरी फसल-मेरा ब्यौरा और खनन के संदर्भ में किए जाने वाले सर्वे इत्यादि। इसके अलावा, स्वामित्व योजना के साथ-साथ लार्ज स्केल मैपिंग योजना भी चलाई जा रही है। इसके तहत, हरियाणा की पूरी भूमि की मैपिंग की जाएगी। पूरी राजस्व संपदा की मौपिंग की जा रही है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के बारे में भी चर्चा हुई। पहली बार ऐसा हुआ है कि लिंगानुपात के आंकडों में लड़कों के मुकाबले लड़कियों की संख्या अधिक आई है, यह खुशी और गर्व की बात है। हरियाणा में भी लिंगानुपात सुधरा है।

Pm Narendra Modi and CM manohar lal khattar meeting at Delhi Today 222

उन्होंने बताया कि ऑरबिटल रेल कॉरिडोर का विषय भी प्रधानमंत्री के समक्ष रखा। इसके साथ ही, प्रधानमंत्री ने प्रदूषण के विषय पर भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण-2021 में भी हरियाणा ने अच्छी उपलब्धि हासिल की है।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री से किसान आंदलोन के विषय में भी चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि कृषि कानून वापिस लेने की घोषणा से अच्छा संदेश गया है और संसद के शीतकालीन सत्र में कानून वापिस होने के बाद निश्चित ही किसान अपने घरों को लौट जाएंगे।

उन्होंन कहा कि हरियाणा सरकार निरंतर किसान हित में कार्य कर रही है। हरियाणा अकेला ऐसा राज्य है जो 11 फसलों की खरीद एमएसपी पर कर रहा है। इतनी ही नहीं, राज्य सरकार ने खराब बाजरे पर भी 600 रुपये प्रति क्विंटल की दर से भावांतर भरपाई की है, जिससे बाजरा उत्पादकों को लाभ हुआ है।

इसके अलावा उन्होंने बताया कि Msp पर कानून बनाना संभव नहीं लग रहा है। यह एक्सपर्ट ने राय दी है, फिर सरकार पर सारी फसलें खरीदने का दबाव आ जाता है जो संभव नहीं हैं। हरियाणा में तो एक दर्जन फसलें एमएसपी पर खरीदी जाती है।

इसके बाद एचपीएससी के मुद्दे पर विपक्ष के आरोपों पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बोलते हुए कहा कि अगर विपक्ष के पास  कोई पुख्ता जानकारी है, तो हमें दें हम उसको जांच के दायरे में लाएंगे और अंधेरे में तीर मारने की जरूरत नहीं है हमें जानकारी दें।
वहीं मंत्रिमंडल विस्तार के विषय पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सस्पेंस बना रहे तो सबको आनंद आता है।