हरियाणा

हरियाणा में युवाओं के लिए खुशखबरी, चार मेडिकल कालेज हो रहे तैयार, देखें लिस्ट

Vikash Kumar
23 Jun 2022 10:37 AM GMT
हरियाणा में युवाओं के लिए खुशखबरी, चार मेडिकल कालेज हो रहे तैयार, देखें लिस्ट
x

चंडीगढ़, 22 जून- हरियाणा के मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने कहा कि प्रदेश के लोगों को बेहतर चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने के लिए राज्य सरकार ने 2025 तक प्रत्येक जिले में एक मेडिकल कॉलेज स्थापित करने का निर्णय लिया है।

यह जानकारी श्री कौशल ने आज राज्य में स्थापित होने वाले सरकारी मेडिकल कॉलेजों के लिए उपकरणों की खरीद को अंतिम रूप देने के संबंध में चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान विभाग के लिए गठित सचिवों की कमेटी की बैठक की अध्यक्षता के बाद दी।

उन्होंने बताया कि चार मेडिकल कॉलेज नामतः नारनौल के कोरियावास, जींद, करनाल और भिवानी में स्थापित किये जा रहे हैं का निर्माण कार्य एक वर्ष के भीतर पूरा कर लिया जाएगा। नारनौल के कोरियावास में स्थापित किए जा रहे मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा जबकि जींद, करनाल के मेडिकल कालेज का निर्माण कार्य 9 महिनों में और भिवानी मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य सितंबर 2023 के तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भी 2025 तक प्रत्येक जिले में एक मेडिकल कॉलेज स्थापित करने के लक्ष्य की प्राप्ति तय समय पर पुर्ण करने लगातार इसकी समीक्षा करते हैं।

मुख्य सचिव ने चिकित्सा उपकरणों की खरीद,स्थापित करने व उनके रखरखाव के कार्य को केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की एजेंसियों से करवाने के निर्देश दिये।उन्होंने संबंधित अधिकारियों को समयबद्ध ढंग से कार्य करने पुरा करने व राज्य भर के सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों में भविष्य में उपकरण प्रबंधन, सहायता और क्षमता निर्माण के लिए एक नालेज पार्टनर के रूप में स्वर्ण जयंती हरियाणा वित्तीय प्रबंधन संस्थान के साथ सांझेदारी करने के भी निर्देश दिये।

बैठक में नगर एवं ग्राम नियोजन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेंद्र सिंह, विकास एवं पंचायत विभाग के अतिरिक्त मुख्यसचिव श्री अमित झा, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, श्री टी वी एस एन प्रसाद, लोक निर्माण (बी एंड आर)विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव,श्री अनुराग रस्तोगी, चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव, श्रीमती जी अनुपमा और जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, श्री ए के सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Next Story