Chopaltv.com
हरियाणा में दो अफसरों को CBI ने रिश्वत केस में दबोचा, एक्सईएन और एसडीओ काबू
 

हरियाणा में सीबीआई की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है। सीबीआई की टीम ने बिल्डिंग निर्माण करवने वाली शाखास के एक्सईएन और एसडीओ को रिश्वत लेते हुए दबोचा है। दोनों से करीब एक हफ्ते तक पूछताछ चली थी जिसके बाद गिरफ्तारी हुई है।

सीबीआई ने यह कार्रवाई अंबाला छावनी निवासी ठेकेदार सौरभ कौशल की शिकायत पर की है। आरोप है कि विभाग से ठेका हासिल करने के बाद काम कराया जाता है, जब भुगतान की बारी आती है तो एक्सइएन से लेकर एसडीओ रिश्वत लिए बिना कोई पेमेंट नहीं करते।

जानकारी के मुताबिक डाक विभाग के कार्यकारी अभियंता सिविल (एक्सइएन) आलोक सक्सेना ने दिल्ली में मूल तैनाती है, इसके अलावा हरियाणा, पंजाब और हिमाचल का अतिरिक्त चार्ज है। वर्ष 2019 में दिल्ली से अंबाला पहुंचकर आलोक ने हरियाणा का अतिरिक्त चार्ज लिया और इसके बाद ठेकेदारों को बिना रिश्वत दिए किसी भी वर्क का भुगतान नहीं किया गया। इस तरह की शिकायतें दिल्ली कार्यालय से लेकर अन्य उच्चाधिकारियों तक पहले भी पहुंच चुकी है।

कार्रवाई करते हुए सीबीआइ की टीम ने एक्सइएन आलोक सक्सेना के दिल्ली स्थित आवास और करीब तीन संभावित ठिकानों पर भी छापेमारी की। छापेमारी के दौरान दिल्ली स्थित आवास पर कुछ सरकारी अभिलेख भी जब्त किया है। इसके अलावा अंबाला स्थित कार्यालय के अधिकारियों और कर्मचारियों से भी पूछताछ करते हुए कुछ फाइलों को अपने कब्जे में लिया है।

सीबीआइ के हाथ लग चुके रिश्वतकांड का आरोपी एसडीओ कुलभूषण अभी वर्ष 2019 में जयपुर से ट्रांसफर होकर अंबाला पहुंचा था। छावनी के शास्त्री कालोनी की गली नंबर तीन में अपने परिवार के साथ रहता है। परिवार में बुजुर्ग मां के अलावा अन्य सदस्य है। गिरफ्तारी के बाद सीबीआई की टीम एसडीओ के आवास पर भी जांच करने के लिए पहुंची थी। इसके बाद से ही परिवार ने बाहर निकलना बंद कर रखा है।