Chopaltv.com
जीजा साली ने मिलकर शातिर तरीके से करवा दी टीचर पति की हत्या, अब पत्नी, प्रेमी समेत 3 अरेस्ट
 


सड़क दुर्घटना में 28 सितंबर को हुई शिक्षक गजराज की मौत मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। अवैध संबंधों के कारण शिक्षक की पत्नी पुष्पा ने प्रेमी संग मिलकर पति की हत्या करवाई थी। साजिश के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग पर तुमसरा टोल के समीप बाइक सवार शिक्षक को एसयूवी से टक्कर मारी गई, जिससे शिक्षक की मौके पर ही मौत हो गई। 

शिक्षक पत्नी के अवैध संबंधों में रोड़ा बन रहा था। पुलिस ने मामले में हत्या की धारा जोड़ते हुए शिक्षक की पत्नी सहित तीन को गिरफ्तार किया है। रेकी करने वाला एक व्यक्ति पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया है। 

लघु सचिवालय में सोमवार को जिला पुलिस अधीक्षक दीपक गहलावत ने बताया कि बीती 28 सितंबर की सुबह गांव मीतरोल निवासी अध्यापक गजेंद्र सिंह बाइक पर सवार होकर गांव गुदराना के सरकारी स्कूल में ड्यूटी पर जा रहे थे। राष्ट्रीय राजमार्ग पर उसे तेज रफ्तार एसयूवी ने टक्कर मार दी थी, जिससे अध्यापक गजेंद्र सिंह की मौत हो गई थी। 

मामले में गुस्साए परिजनों ने राजमार्ग को जाम कर गजेंद्र की हत्या का आरोप लगाया था। भाई भूपराम की शिकायत पर मुंडकटी थाना पुलिस ने सड़क दुर्घटना का मामला दर्ज किया। जांच के दौरान पुलिस ने टोल टैक्स व एक ढाबे की सीसीटीवी फुटेज खंगाली, जिसमें पाया कि दुर्घटना वाले दिन एक एसयूवी होडल की तरफ से पलवल की ओर आ रही थी। 

Teacher Gajender Murder Case in Palwal

पलवल वाली साइड को छोड़कर कच्ची पट्टी को पार करते हुए वापस होडल की तरफ खड़ी हो जाती है। जब अध्यापक गजेंद्र सिंह बाइक पर टोल टैक्स को पार करता है तो वही एसयूवी तेज रफ्तार से गजेंद्र सिंह की बाइक को टक्कर मारकर फरार हो जाती है। मामले की जांच डिटेक्टिव सेल इंचार्ज विश्व गौरव को सौंपी गई। 

जांच करते हुए पुलिस को सूचना मिली कि दुर्घटना वाले दिन एसयूवी में मौजूद दो व्यक्ति किठवाड़ी गांव के पास स्थित हनुमान मंदिर के पास मौजूद हैं। सूचना मिलते ही टीम गठित कर दबिश दी गई और दोनों लोगों को काबू कर लिया गया। पूछताछ में आरोपियों ने अपना नाम रोहताश निवासी मीतरोल और दीपक निवासी श्रीनगर बताया। 

आरोपी रोहताश ने बताया कि अध्यापक गजेंद्र की पत्नी पुष्पा से उसके अवैध संबंध थे। इस बारे में गजेंद्र सिंह को पता चल गया था और वह अपनी पत्नी पुष्पा के साथ मारपीट करता था। उसने अपने दोस्त दीपक तथा एक अन्य साथी के साथ मिलकर एसयूवी से टक्कर मारकर गजेंद्र सिंह की हत्या कर दी थी। 

आरोपियों ने बताया कि अवैध संबंधों में रोड़ा बन रहे गजेंद्र की हत्या की साजिश पुष्पा ने प्रेमी रोहताश के साथ बनाई थी। पकड़े जाने के डर से मामले में सड़क दुर्घटना साबित करने का प्लान बनाया गया। हत्या से दो सप्ताह पहले बनाई गई साजिश को रोहताश ने साथी दीपक के साथ मिलकर मुकाम तक पहुंचाया। 

रोहताश फरीदाबाद निवासी अपने किसी दोस्त से एसयूवी मांग कर लाया था। पुलिस कार मालिक की संलिप्तता के बारे में जांच कर रही है। इसके अलावा टोल टैक्स के पहले गजेंद्र सिंह के आने के बारे में रेकी करने वाले व्यक्ति की भी पुलिस तलाश कर रही है। 

आरोपी रोहताश ने पूछताछ में बताया कि शिक्षक गजेंद्र और उसकी शादी गांव कौंडल से हुई थी। इस कारण गजेंद्र की पत्नी के साथ उसका जीजा-साली का रिश्ता बन गया। इस रिश्ते के चलते वह कभी भी गजेंद्र के घर में आ जा सकता था। बाद में उनके अवैध संबंध बन गए। पिछले करीब पांच साल से उनके अवैध संबंध चल रहे थे। कुछ दिन पहले गजेंद्र को पता चल गया और उसने विरोध करना शुरू कर दिया।