Chopaltv.com
18 दिन के नवजात के लापता होने के मामले में बड़ा खुलासा, मां और मौसी ने रची थी साजिश, ऐसे हुआ पर्दाफाश
 
 

सिरसा जिले के डबवाली कस्बे के मटदादू गांव में 18 दिन के नवजात बच्चे के संदिग्ध परिस्थितियों में लापता होने के मामले में अहम खुलासा हुआ है। इस मामले में नवजात की मां और मौसी ने साजिश रची थी। 

जानकारी के मुताबिक डबवाली के मटदादू गांव में एक 18 दिन का बच्चा लापता हो गया था। यहां पर बच्चे के पास आई उसकी मौसी के जेवरात भी गायब हो गए थे, जिसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गई थी।

पुलिस सीआईए की टीम ने जब इस मामले में जांच शुरु की तो मामला संदिग्ध लगा जिसके बाद मौसी से सख्ती से पूछताछ की तो मामले से सारी पोल खुल गई।

गांव मटदादू में खुइयां मलकाना रोड पर रहने वाले एक व्यक्ति ने सूचना दी कि उसका 18 दिन का बच्चा घर से गायब हो गया है। उस वक्त कमरे में उसकी पत्नी तथा रिश्ते में लगने वाली साली थी। उसके कानों में पहने जेवरात भी बच्चा उठाने वाले उतार ले गए। 

सीआइए डबवाली ने संदेह के आधार पर उसकी साली से से सख्ती से पूछताछ की तो सारा मामला खुल गया।

पुलिस के अनुसार उसकी साली आधी रात को एक अन्य युवक के साथ बाइक पर बच्चे को गांव जोगेवाला छोड़कर आई थी। पुलिस बच्चे को खोजते हुए जोगेवाला पहुंची तो वहीं मिल गया। वहां उसका पति भी मिला। 
उसने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी पटियाला में माथा टेकने गई हुई है। जबकि वह गांव मटदादू में थी। उसके जेवरात भी वहीं मिल गए। जोकि उसने खुद उतारकर रखे थे।

सदर थाना प्रभारी डबवाली देवीलाल ने बताया कि सीआइए डबवाली ने बच्चे को जोगेवाला गांव से बरामद कर लिया। मौसी ही बच्चे को अपनी बुआ के पास छोड़कर आई थी। मां तथा मौसी को पूरे मामले का पता था। वारदात न होकर यह ड्रामा था। सूचना देने वाले बच्चे के पिता ने बच्चा मिलने के बाद लिखित में शिकायत दर्ज नहीं करवाई। इसलिए पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।