हरियाणा

Expressway: एक और एक्सप्रेसवे की सौगात, महज 20 महीने में बनकर होगा तैयार

Vikash Kumar
5 Aug 2022 1:28 AM GMT
Expressway: एक और एक्सप्रेसवे की सौगात, महज 20 महीने में बनकर होगा तैयार
x
जानकारी अनुसार, जल्द ही भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

सरकार सरकार इंफ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) को मजबूत करने के लिए लगातार काम कर रही है। इसके तहत लगातार हाईवे और एक्सप्रेसवे(Highways and Expressways) बनाए जा रहे हैं। देश के विभिन्न हिस्सों में सड़कों और एक्सप्रेसवे का जाल बुना जा रहा है। इसके तहत उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती जिले गाजीपुर से बलिया तक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे (Greenfield Expressway) की सौगात मिली है। इस एक्सप्रेसवे के जरिए यूपी की बिहार से कनेक्टिविटी(Connectivity of UP to Bihar) और बेहतर हो जाएगी। साथ ही रोजगार के नए अवसर भी पैदा होंगे।

इस मॉडल पर बनाया जा रहा एक्सप्रेसवे

खास बात ये है कि ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे(Green Field Expressway) इंजीनियरिंग प्रोक्योरमेंट एंड कंस्ट्रक्शन मॉडल (Engineering Procurement and Construction Model) पर बनाया जाएगा। इसे ईपीसी भी कहा जाता है। हालांकि, इसके निर्माण का पूरा खर्चा सरकार उठाएगी। वहीं, जल्द ही जमीन के अधिग्रहण के बाद निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

जानकारी अनुसार, जल्द ही भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई शुरू हो जाएगी। आपको बता दें कि यह एक्सप्रेसवे गाजीपुर के जंगीपुर से बलिया के मांझी घाट को जोड़ेगा। बता दें कि इसको लेकर गाजीपुर जिला प्रशासन ने गजट भी कर दिया है।

क्या है होता है ईपीसी?

इन सब के बीच आप भी सोच रहे होंगे कि यह एक्सप्रेसवे ईपीसी मॉडल (EPC Model) पर बन तो रहा है, लेकिन ईपीसी का आखिर है क्या। दरअसल, ईपीसी के तहत बनने वाले प्रोजेक्ट्स में सरकार की प्राथमिकता वाले प्रोजेक्ट को शामिल किया जाता है। फिलहाल, इसके लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू हो गई है।

मांझी घाट को जोड़ेगा ये एक्सप्रेसवे

आपको बता दें कि केंद्र सरकार के सड़क व भूतल परिवहन मंत्रालय(Ministry of Road and Surface Transport) की कमेटी ने वाराणसी-गाजीपुर के जंगीपुर विधानसभा से होकर ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे बलिया के मांझी घाट को जोड़ेगा। वहीं, ये एक्सप्रेसवे गाजीपुर की सीमा, भरौली-बक्सर को जोड़ने वाला एक्सप्रेसवे होगा। सरकार ने इसे ईपीसी माडल(EPC Model) से बनाने की मंजूरी दे दी है। हालांकि, इस एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्य तेजी से होगा। ये प्रोजेक्ट सरकार की प्राथमिकता में शामिल होते हैं।

Next Story