शादी के बाद नवविवाहिता ने की भागने की कोशिश, पकड़े जाने पर सामने आई दुल्हन की सच्चाई, जानकर उड़ जाएंगे होश
 

Chopal Tv, Rajasthan

राजस्थान के बाड़मेर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां शादी के बाद नवविवाहिता ने ससुराल से भागने की कोशिश की। ससुराल वालों ने जब निवावहिता को रोकने के कोशिश की तो उसने अपने सच्चाई बताई जिसने जानकर हर किसी के होश उड़ गए।

मामला बाड़मेर के रामदेरिया काश्मीर गांव का है। जहां उमेदाराम नाम के युवक ने बाड़मेर कोतवाली में मामला दर्ज करवाया। उमेदाराम ने बताया कि वह शोभाला जेतमाल निवासी जूंजाराम को पहले से जानता था। उसने शादी के लिए पंजाब के जसवंत सिंह और सोनू से मुलाकात करवाई।

उमेदाराम ने बताया कि दोनों ने 3 लाख रुपए में शादी करवाने का भरोसा दिलाया। दलालों को 3 लाख रुपए देने के बाद उसकी शादी पंजाब की कोरतू बाई से करवा दी। दोनों की शादी का एफिडेविट भी बनाया। शादी के 12 दिन तक सब कुछ ठीक चल रहा था। लेकिन उसकी दुल्हन पंजाब जाने की जिद करने लगी।

shaddi

ससुराल वालों ने नवविवाहिता को मना कर दिया को उसने पूरी कहानी बता दी। उसने बताया कि वो पहले से शादीशुदा है और दो बच्चों की मां भी हैं। दो बच्चों के बाद उसने नसबंदी करवा ली थी। जिसके बाद उमेदाराम ने मामला दर्ज करवाया।

कोतवाल उगमराज के मुताबिक दो दिन पहले जसवंत सिंह और गीता रानी कोरतू बाई को चोरी-छिपे ले जाने के लिए बाड़मेर आए। उमेदाराम को इसके बारे में पता चल गया तो पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने गीता रानी व कोरतू बाई को हिरासत में ले लिया है।

पीड़ित की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस दोनों महिलाओं से पूछताछ कर रही है। इनके साथियों की तलाश जारी है। पुलिस ने बताया कि कोरतू बाई की पहले से शादी हो रखी थी। उसका पति पंजाब में ट्रक ड्राइवर है। कोरतू को पता था कि उसकी दूसरी शादी करवाने पंजाब से बाड़मेर ले जाया जा रहा है।