Kisan Mahapanchayat: हरियाणा के करनाल में एक बार फिर इकट्ठा हुए हजारों किसान, चढूनी भी पहुंचे, जानिए पूरी खबर
 

करनाल में एक बार फिर से किसान महापंचायत हो रही है। भारी संख्‍या में किसान एकजुट हो रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी असंध गुरुद्वारे पहुंच रहे हैं।

पानीपत रिफाइनरी से मूंड गांव के पावर हाउस जाने वाली 220 केवी बिजली लाइन को लेकर किसान विरोध कर रहे हैं। किसानों ने मुआवजे की मांग की है। शनिवार को भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी के नेतृत्व में महापंचायत बुलाई गई। असंध गुरुद्वारे में महापंचायत होने से भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात है। किसानों ने प्रशासन द्वारा खुदवाए गए गड्ढे भरने का ऐलान किया। किसानों के विरोध के चलते पुलिस बल मौके पर मौजूद है।

jagran

किसानों की मांग है कि प्रति पोल 15 लाख रुपए मुआवजा मिलना चाहिए। जब तक सरकार किसानों की मुआवजे की मांग स्वीकार कर घोषणा नहीं करेगी तब तक कार्य नहीं होने देंगे।

किसानों ने कहा कि अगर किसी खेत से लाइन निकलती है तो उस खेत में न तो मकान बनाया जा सकता और न ही उस खेत को बेचा जा सकता है क्योंकि खेत की कीमत खत्म हो जाती है। यह स्थिति किसानों के लिए घाटे का काम करती है। किसान मरने के लिए तैयार हैं लेकिन काम नहीं होने देंगे।