Haryana patient Pension: हरियाणा में कैंसर, थैलेसिमिया और हीमोफीलिया मरीजों को मिलेगी पेंशन, डाक्‍टरों के पदों को भरा जाएगा
 

अटल कैंसर केयर केंद्र के लोकार्पण के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश के कैंसर, थैलेसीमिया और हीमोफीलिया के मरीजों को सौगात दी है। उन्होंने कहा कि कैंसर के मरीज, जो तीसरी और चौथी स्टेज पर हैं, की हालत काफी खराब हो जाती है, ऐसे मरीजों को ढाई हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी। इसी तरह थैलेसीमिया और हीमोफीलिया के मरीजों को भी सरकार ढाई हजार रुपये पेंशन देगी। सीएम ने यह भी कहा कि कैंसर के मरीजों के साथ आने वाले तीमारदारों के लिए भी 100 लोगों की क्षमता का हास्टल तैयार किया जाएगा। उन्होंने मंच से ही गृह मंत्री अनिल विज को कहा कि वे इसके लिए जमीन तलाशें, सरकार इसका कार्य जल्द शुरू कराएगी।

आयुष्मान भारत योजना की लिस्ट में शामिल होगा केंद्र

मुख्यमंत्री ने कहा कि कैंसर का इलाज आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत मुफ्त होगा। इसके तहत पांच लाख रुपये तक का इलाज सरकार कराएगी। अटल कैंसर केयर केंद्र को जल्द आयुष्मान भारत योजना की सूची में शामिल किया जाएगा। प्रदेश के हर जिले में 2025 तक मेडिकल कालेज बनकर तैयार हो जाएंगे।

बढ़ाई हैं एमबीसीएस सीटें
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने एमबीबीएस की सीटें बढ़ाई हैं और भविष्य में भी इन सीटों को बढ़ाया जाएगा ताकि डाक्टरों की कमी को पूरा किया जा सके। जल्द ही प्रदेश में 1000 जनसंख्या पर एक डाक्टर के पैमाने को पूरा किया जाएगा।

दो और आधुनिक मशीनें लगाई जाएंगी
सीएम ने कहा कि अटल कैंसर केयर केंद्र में अत्याधुनिक मशीनों से इलाज किया जाएगा। कई मशीनें इस केंद्र में आ चुकी हैं। इसी तरह जल्द ही नवीनतम तकनीक वाली पासिट्रान एमिशन टोमोग्राफी और ङ्क्षसगल फोटोन एमकिशन टोमोग्राफी लगाई जाएगी। इन मशीनों की कीमत करीब 34 करोड़ रुपये है।

पांच राज्यों के मरीजों को होगा लाभ
72.11 करोड रुपये की लागत से बने इस कैंसर केयर केंद्र से हरियाणा ही नहीं पड़ोसी राज्यों जैसे पंजाब, हिमाचल, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड आदि के कैंसर रोगियों को भी सुलभ, सस्ती और व्यापक उपचार मिलने में सहायता मिलेगी। इस सेंटर में मेडिकली, सर्जरी और रेडिएशन के मार्फत लोगों का इलाज किया जाएगा यानी यहां पर कैंसर से लडऩे की संपूर्ण व्यवस्था होगी।

कैंसर के इलाज को जनसंख्या आधारित स्क्रीनिंंग होगी
जेपी नड्डा ने कहा कि देश का सबसे बड़ा कैंसर सेंटर 2035 करोड़ रुपये की लागत से हरियाणा के झज्जर में खोला गया है। वहां 710 बेड की व्यवस्था है। सरकार जल्द ही जनसंख्या आधारित स्क्रीनिंग करने जा रही है। इसके तहत 30 साल तक की आयु के लोगों की स्क्रीङ्क्षनग करके कैंसर को पहली स्टेज में ही पकड़ लिया जाएगा। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के संबंध में कहा कि देश में 1.5 लाख वेलनेस सेंटर खोल जाएंगे। इसमें से अब तक 1.18 लाख सेंटर बन चुके हैं। 1147 सेंटर हरियाणा में बनाए गए हैं।