Haryana Roadway: हिसार से बरवाला-चंडीगढ़ जाने वाले बस यात्रियों को नुकसान, चुकाना पड़ेगा अतिरिक्त किराया
 

हिसार से बरवाला-चंडीगढ़ जाने वाले यात्रियों को रोडवेज बस में दो रुपये अतिरिक्त किराया चुकाना पड़ेगा। यह किराया सिर्फ शहर बस अड्डा से बरवाला या चंडीगढ़ जाने वाले यात्रियों से लिया जाएगा। अगर कोई यात्री तलवंडी या अन्य आगे के बस अड्डा से बस में सफर करता है तो उनसे यह बढ़ा हुआ किराया नहीं लिया जाएगा। इसका कारण है कि एयरपोर्ट विस्तार के चलते बरवाला रोड को डायवर्ट कर दिया गया है। इससे शहर बस अड्डा से तलवंडी राणा गांव की दूरी दो किलोमीटर बढ़ी है। इसलिए किराया बढ़ा है।


यह रोडवेज प्रशासन के सर्वे में सामने आया है। इस रूट का रोडवेज ने दो बार सर्वे कराया है। शुरू के सर्वे में शहर बस अड्डा से तलवंडी राणा की दूरी किलोमीटर बढ़ी पाई गई। जब दोबारा से शक के आधार पर सर्वे कराया गया तो यह दूरी किलोमीटर थी। इसका कारण था कि यातायात प्रबंधक की टीम तलवंडी की दूरी आठ किलोमीटर तय की थी, जो यह दूरी सात किलोमीटर थी। तलवंडी राणा से आगे का रूट वहीं है। उसकी दूरी में कोई अंतर नहीं आया। यह रास्त अभी अस्थायी है। स्थायी रास्ता बनने के बाद दोबारा से सर्वे होगा।


प्रति किलोमीटर एक रुपये बढ़ा किराया

रोडवेज की ओर से प्रति किलोमीटर एक रुपये किराया बढ़ाया गया है। हर बस में 50 से 52 सीट होती है। ऐसे में इसका भार सभी यात्रियों पर पड़ेगा। कई बार बस में यात्री ज्यादा होते है, जिससे राजस्व भी बढ़ेगा।

ऐसा होता है सर्वे

जिस रूट से बस गुजरती है। उस रूट का सर्वे के लिए यातायात प्रबंधक की अलग से गाड़ी व टीम है, जो उस रूट के हर बस अड्डा से दूसरे बस अड्डा की किलोमीटर की रिपोर्ट बनाती है।  इसके बाद उसी अनुसार किराया बढ़ता है कि किस बस अड्डा तक कितना किराया लगेगा।

पीछे के गेट से बसों के संचालन से दोबारा होगा सर्वे

अगर बरवाला-चंडीगढ़ रूट की बसों का संचालन बस अड्डा के पीछे के गेट से होता है। इस रूट का दोबारा से रोडवेज को सर्वे करवाना होगा, क्योंकि इस रूट की दूरी और बढ़ेगी। ऐसे में एक बार फिर किराया बढ़ने की नौबत आ सकती है। पीडब्ल्यूडी की ओर से गेट लगाकर तैयार कर दिया है। जल्द ही गेट को खोला जाएगा।