Haryana BPL Home Scheme: हरियाणा में गरीबों को मिलेंगे घर, बीपीएल ही नहीं इन परिवारों को भी मिलेगा पक्का मकान

 
 Haryana BPL Home Scheme: हरियाणा में गरीबों को मिलेंगे घर, बीपीएल ही नहीं इन परिवारों को भी मिलेगा पक्का मकान
 

Haryana BPL Home Scheme: हरियाणा में सबको पक्का घर देने का लक्ष्य लगभग पूरा हो चुका है। प्राथमिकता सूची के लाभार्थियों को जहां पहले चरण में ही पक्के घर दे दिए गए वहीं अब राज्य में प्रधानमंत्री आवास योजना का दायरा बढ़ाकर और लोगों को भी शामिल कर लिया गया है। 

ग्रामीण क्षेत्रों के साथ शहरी क्षेत्रों के लाभार्थियों की आवास की जरूरतें पूरी की जा रही हैं। देश में लोगों के इस सपने को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार हर वर्ष बजट में विशेष प्रावधान करती है। 

इसी तर्ज पर हरियाणा की सरकार ने भी कदम उठाए हैं। सूबे के जरूरतमंद गरीबों व वंचितों के लिए उनका खुद का सपनों का आशियाना उपलब्ध कराने का संकल्प व्यक्त किया है। इसके लिए राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री आवास योजना की शुरुआत की है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में इस योजना में उन सभी लोगों को शामिल किया जाएगा जो जरूरतमंद छूट गए हैं।

हरियाणा के 2023-24 के सालाना बजट में भी मुख्यमंत्री शहरी आवास योजना के मद में 5893 करोड़ रुपए का आवंटन भी कर दिया है। इससे हरियाणा का कोई भी परिवार ऐसा नहीं होगा जिसके सिर पर पक्की छत न हो। सिर्फ बीपीएल श्रेणी के नहीं बल्कि सभी बेघर लोगों को योजना में शामिल किया जाएगा। ऐसे जरूरतमंद परिवारों को सरकार आवास उपलब्ध कराएगी। 

समाज सेवा में जमीनी स्तर पर जुड़े रहे मुख्यमंत्री जानते हैं कि किसी भी व्यक्ति के जीवन में घर की छत का क्या महत्व है। प्रदेश में कोई बिना छत न रह जाए इसे ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने योजना में लाभार्थियों का दायरा बढ़ाते हुए इसमें अब विकलांग व घुमंतू समुदाय के लोगों को भी शामिल कर दिया है। इनकी पहचान के लिए पूरे प्रदेश में सर्वे का काम त्वरित गति से चलाया जा रहा है ताकि योग्य आवेदक इस योजना का लाभ लेने से वंचित न रह सकें।

पूरे प्रदेश में परिवार पहचान पत्र आईडी के साथ वास्तविक आंकड़े सरकार को प्राप्त हो चुके हैं। योजना का लाभ पूरे प्रदेश की जनता को समान रूप से मिले, इसके लिए सरकार ने मुख्यमंत्री आवास योजना को शहरी आवास योजना और ग्रामीण आवास योजना के नाम से दो अलग-अलग वर्गों में बांटा है।

मुख्यमंत्री शहरी आवास योजना के तहत लोगों को उनकी आवश्यकता और बजट के आधार पर सस्ते दर पर आवास उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को दी गई है। इसके लिए वह तेजी से काॅलोनियों का निर्माण कराया जाएगा।

हालांकि सरकार की योजना एक लाख गरीब परिवारों को सस्ते दर पर आवास उपलब्ध कराना है। हरियाणा शहरी विकास विकास प्राधिकरण की ओर से नगरीय निवासियों के लिए 67,649 मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को उनके पुराने मकान की मरम्मत के लिए भी मदद उपलब्ध कराने का फैसला किया है।

पुराने व जर्जर हो चुके मकानों की मरम्मत के लिए डॉक्टर बीआर अंबेडकर आवास नवीनीकरण योजना से वित्तीय मदद मुहैया कराई जाएगी। योजना में इस मद में दी जाने वाली वित्तीय सहायता तो बढ़ा दिया गया है। इसे 50 हजार रुपए से बढ़ाकर 80 हजार रुपए कर दिया गया है।