Government news: केंद्र सरकार ने महिलाओं के लिए बनाई खास स्कीम, देगी 1 लाख रुपये

 
केंद्र सरकार ने महिलाओं के लिए बनाई खास स्कीम, देगी 1 लाख रुपये
 

Government news: महिला सम्मान बचत योजना 2023 महिलाओं के लिए सरकार द्वारा चलाई गई एक विशेष योजना है। यह एक जमा योजना है जिसमें महिलाओं को बहुत अच्छा ब्याज दिया जाता है। MSSC में दो साल तक पैसा जमा करना होता है. दो साल के बाद आपको पूरी रकम ब्याज और मूलधन के साथ वापस मिल जाती है। 

फिलहाल इस स्कीम पर ब्याज 7.5 फीसदी है. ऐसे में अगर आप इस सरकारी योजना में 50,000 रुपये, 1,00,000 रुपये और 2,00,000 रुपये का निवेश करते हैं तो आपको कितना रिटर्न मिलेगा? यहां जानिए कैलकुलेशन.

50,000 रुपये से 2 लाख रुपये तक के निवेश पर कितना रिटर्न है?

महिला सम्मान बचत प्रमाणपत्र योजना कैलकुलेटर 2023 के अनुसार, यदि आप इस योजना में 50,000 रुपये का निवेश करते हैं, तो दो साल के बाद 7.5 प्रतिशत ब्याज दर पर आपको राशि पर 8,011 रुपये ब्याज के रूप में मिलेंगे। लेकिन मिलेंगे. इस तरह दो साल बाद आपको कुल 58,011 रुपये मिलेंगे.

वहीं अगर आप स्कीम में 1,00,000 रुपये निवेश करते हैं तो 7.5 फीसदी ब्याज दर पर आपको मैच्योरिटी के समय 1,16,022 रुपये मिलेंगे. अगर आप 1,50,000 रुपये जमा करते हैं तो आपको दो साल बाद 1,74,033 रुपये मिलेंगे।

 अगर आप 2,00,000 रुपये का निवेश करते हैं तो 7.5 फीसदी ब्याज दर पर दो साल बाद आपको निवेश की गई रकम पर 32,044 रुपये ब्याज के रूप में मिलेंगे. इस तरह आपको मैच्योरिटी पर कुल 2,32,044 रुपये मिलेंगे.

कहां खुलेगा खाता
कोई भी महिला अपना खाता डाकघर या अधिकृत बैंकों में खुलवा सकती है। 18 साल से कम उम्र की लड़कियों के लिए उनके माता-पिता यह खाता खुलवा सकते हैं।

 खाता खोलते समय आपको फॉर्म-1 भरना होगा, इसके साथ ही आपको आधार कार्ड, पैन कार्ड और रंगीन फोटो आदि जैसे केवाईसी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इस योजना का लाभ वर्ष 2025 तक उठाया जा सकता है।

निकासी नियम

अगर आप मैच्योरिटी अवधि से पहले खाते से पैसा निकालना चाहते हैं तो यह सुविधा आपको 1 साल बाद मिलती है। अगर आपको बीच में पैसे की जरूरत है तो 1 साल पूरा होने के बाद आप जमा किए गए पैसे का 40 फीसदी तक निकाल सकते हैं. निकाल सकते हैं.

यदि खाताधारक गंभीर रूप से बीमार पड़ जाता है या उसकी मृत्यु हो जाती है, तो खाता खोलने के छह महीने बाद महिला सम्मान बचत पत्र योजना खाता बंद किया जा सकता है। लेकिन इस स्थिति में ब्याज दर 2% कम करके पैसा वापस कर दिया जाता है। ऐसे में 5.5 फीसदी की दर से ब्याज दिया जाएगा.