Sukanya Samridhi Yojna: बेटी की शादी के समय मिलेंगे 15 लाख रुपये, केवल इतने रुपए में अपनी बेटी के नाम खुलवाएं ये खाता; यहाँ देखें डिटेल
 

SSY Scheme: अगर आप अपनी बेटी की उज्जवल भविष्य के बारे में सोच रहे हैं तो आप सुकन्या समृद्धि (Sukanya Samriddhi Yojana) में निवेश कर सकते हैं। सरकार सुकन्या स्मृद्धि योजना पर 7.6 प्रतिशत सालाना दर से ब्याज दे रही है। आगामी अप्रैल-जून तिमाही के लिए यही ब्याज दरें रहेंगी। बता दें कि सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) बालिकाओं के लिए शुरू की गई एक छोटी जमा योजना है। सुकन्या समृद्धि योजना खाता इस योजना के तहत 10 वर्ष या उससे कम उम्र की लड़की के अभिभावक या माता-पिता द्वारा खोला जा सकता है। सरकार की इस योजना में आपको न सिर्फ शानदार रिटर्न कमाने का मौका मिलेगा, बल्कि आप टैक्स की बचत भी कर सकते है। आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में सबकुछ...
 
क्या है SSY स्कीम?
इस योजना के तहत, आप न्यूनतम राशि 250 रुपये और अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। यह खाता खुलवाने से आपको अपनी बेटी की पढ़ाई और आगे के खर्चे से काफी राहत मिलती है। इसमें एक बेटी के नाम पर एक ही खाता खुलवाया जा सकता है। अगर दो बेटियां हैं तो दोनों के नाम अलग-अलग खाते खोलने होंगे। 

कहां खुलवाएं खाता?

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता किसी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत शाखा में खोला जा सकता है। इस योजना के तहत अकाउंट बच्ची के जन्म लेने के बाद 10 साल से पहले की उम्र में कम से कम 250 रुपये जमा के साथ खोला जा सकता है। 

देने होंगे ये डॉक्युमेंट?
चालू वित्त वर्ष में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कराये जा सकते हैं। खाता खुलवाने के लिए आपको फॉर्म के साथ पोस्ट ऑफिस या बैंक में अपनी बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट जमा कराना होगा।  इसके अलावा बच्ची और माता-पिता का पहचान पत्र, जैसे-पैन कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट देना होगा। 

कब मैच्योर होता है यह खाता?

खाता खुलने की डेट से 21 साल बाद या बेटी के 18 साल होने पर शादी के समय (शादी की तारीख से 1 महीना पहले या तीन महीने बाद) सुकन्‍या समृद्धि खाता मैच्‍योर होता है। सुकन्या समृद्धि योजना पर 7.6 फीसदी ब्याज है। 

मिलेगा 15 लाख का फायदा

बता दें अगर आप इस स्कीम में हर महीने 3000 रुपये का निवेश करते हैं यानी सालान 36000 रुपये लगाने पर 14 साल बाद 7.6 फीसदी सालाना कंपाउंडिंग के हिसाब से आपको 9,11,574 रुपये मिलेंगे. 21 साल यानी मेच्योरिटी पर यह रकम करीब 15,22,221 रुपये होगी।