Home राजनीति परिवर्तन रैली से मिलेगा सशक्त विकल्प : हुड्डा

परिवर्तन रैली से मिलेगा सशक्त विकल्प : हुड्डा

4 second read

Pardeep Sahu, Charkhi dadri

रोहतक के मेला ग्राउंड में होने वाली परिवर्तन रैली के बाद हरियाणा की राजनैतिक फिजा पूरी तरह बदल जाएगी। यह बात हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आज यहां पोर्टा होटल में कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि महारैली के बाद हरियाणा के लोगों को भाजपा को परास्त करने के लिए एक ताकतवर विकल्प मिलेगा। उन्होंने कहा कि समाज को बांटने और राजनैतिक प्रतिशोध से काम लेने वाली भाजपा की सच्चाई लोगों के सामने आ गई है और विधानसभा चुनावों में उसकी बड़ी हार तय है।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में अवैध खनन और ओवरलोडिंग का खेल खेला जा रहा है जिसमें राजनेता और बड़े अधिकारी संलिप्त हैं यही वजह है कि सरकार सीबीआई जांच से बच रही है। उन्होंने कहा कि 152 डी ग्रीन कॉरिडोर के भूमि अधिग्रहण के उचित मुआवजे को लेकर प्रदेश में एक दर्जन से ज्यादा जगह लंबे समय से किसान धरने पर बैठे हैं जिसका समाधान नहीं निकाला जा रहा है और सरकार आंखें बंद किए बैठी है। हमने विधानसभा सत्र में भी इस मुद्दे को उठाया था।अलबत्ता सरकार ने किसानों में फूट डालने के लिए अधिग्रहण के मुआवजा राशि में कुछ जगह मामूली इजाफा किया वहीं बहुत जगह घटा दिए।

भाजपा पर ताबड़तोड़ हमले करते हुए हुड्डा ने कहा कि भाजपा ने किसानों की आय दुगुना करने का वायदा किया लेकिन कहीं पर भी पूरी फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य पर नहीं खरीदी गई साथ में खरीद में अनेक शर्तें थोप दी। डीएपी के रेट बढ़ा दिए और यूरिया के खाद के बैग का वजन घटा दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा की आड़ किसानों की लूट बदस्तूर जारी है। किसानों को राहत देने की बजाए प्राइवेट बीमा कंपनियों को मालामाल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने जनता को कर्ज के दलदल में धकेल दिया है।

अपने कार्यकाल के जिक्र करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा कि उनकी सरकार के समय हरियाणा बैकवर्ड और अनुसूचित जाति निगम द्वारा दिये गए ऋण के सैकड़ों करोड़ रुपए माफ किये व बीपीएल परिवारों को 3.82 लाख 100- 100 गज के आवासीय प्लाट मुफ्त दिए गए। हमने ना केवल जो कहा करके दिखाया बल्कि उससे ज्यादा किया। हमने इनेलो-भाजपा शासनकाल में रुके किसानों के बकाया बिलों का मामला 1600 करोड़ माफ करके सुलझाया और स्लैब सिस्टम बहाल किया।

उन्होंने कहा कि हमने सोनीपत में राजीव गांधी एजुकेशन सिटी बना शिक्षा हब बनाने की नींव डाली, प्रदेश में अनेकों विश्वविद्यालयों की स्थापना की। केंद्र से राष्ट्रीय स्तर के शिक्षण संस्थान लेकर आये। हमारे प्रयासों के बदौलत ही आज बहादुरगढ़, बल्लभगढ़, गुरुग्राम में मेट्रो दौड़ रही है। हमारे समय में हरियाणा प्रति व्यक्ति आय और निवेश में देशभर में पहले स्थान पर पहुंच गया था। हमारे समय मे हरियाणा बेरोजगारी की दर 2.8 थी जो भाजपा राज में 8.6 हो गई है। कानून व्यवस्था का पूरी तरह जनाजा निकल गया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का ध्यान मूल मुद्दों पर नहीं है बल्कि धार्मिक और जातीय द्वेष बढ़ाने पर लगे हुई है। अगर दादरी पर ही ध्यान दें तो हमारी सरकार द्वारा बनाया गया 100 बेड का अस्पताल डॉक्टरों के लिए तरस रहा है और उसी समय बना करोड़ों की लागत से बना किसान मॉडल स्कूल भी ये सरकार अभी तक शुरू नहीं कर पाई है।

हुड्डा ने “खट्टर सरकार धोखा है, हरियाणा बचालो अब मौका है ” का नारा देते हुए कार्यकर्ताओं से भारी संख्या में परिवर्तन रैली में भाग लेने का आह्वान किया। इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा गांव ढाणी फोगाट में 152 डी के भूमि अधिग्रहण के उचित मुआवजे के लेकर किसानों के धरने पर पहुंचे और अपना समर्थन दोहराया। उन्होंने कहा कि सरकार को अविलम्ब किसानों से इस मुद्दे पर बातचीत करनी चाहिये। उन्होंने कहा कि हमने विधानसभा में भी सरकार को चेताया था।

इस अवसर पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव रण सिंह मान, पूर्व विधायक रणबीर महेन्द्रा, किसान कांग्रेस के राष्ट्रीय संयुक्त समन्वयक राजू मान, प्रदीप कादियान मंढौली ,जोरावर सिंह, मनीषा सांगवान, बलजीत फौगाट, अमन डालावास, अनिल धनखड़, संदीप फौगाट, जयंत वशिष्ट, कालू फौगाट, जितेंद चरखी, अशोक रावलधी, रणबीर कासनी, प्रवीण पार्षद, कृष्ण पार्षद, सुंदर पार्षद, विनोद पार्षद, रामकुमार कादयान, मंजीत मोठसरा, मीर सिंह जेवली, नितिन सिधनंवा , प्रवीण मंढौली ,जगत बाढड़ा, संदीप बाढड़ा, धर्मपाल बाढड़ा, मामन जांगडा, रोहताश रोहिल्ला समेत अनेक नेता कार्यकर्ता मौजूद थे।

Check Also

अंबाला में कोरोना की संदिग्ध मरीज आई सामने, थाईलैंड से आई है युवती

BS Gulyani, Ambala कोरोना वायरस की एक संदिग्ध अंबाला में भी सामने आई है। कुछ दिनों पहले 20…