IAS Pranita Dash: विदेश से की पढ़ाई, लाखों की नौकरी छोड़कर IAS बनीं प्रणिता दाश

 
 IAS Pranita Dash: विदेश से की पढ़ाई, लाखों की नौकरी छोड़कर IAS बनीं प्रणिता दाश 
Success Story IAS Pranita Dash: आईएएस अधिकारी प्रणिता दाश ओडिशा के मयूरभंज जिले के एक छोटे से शहर बारीपदा की रहने वाली हैं. पांचवीं तक बारीपदा में ही पढ़ाई हुई. इसके बाद वह भुवनेश्वर चली गईं. यहां उन्होंने 12वीं क्लास तक पढ़ाई की. प्रणिता ने इसके बाद सेंट जेवियर्स कॉलेज, कोलकाता से इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन किया.

प्रणिता ने कोलकाता से ग्रेजुएशन के बाद इकोनॉमिक्स में मास्टर्स करने के लिए लंदन चली गईं. यहां उन्होंने विश्व प्रसिद्ध यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन में दाखिला लिया. उन्हें यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन से स्कॉलरशिप मिली थी. मास्टर्स के दौरान ही उन्होंने यूपीएससी एग्जाम भी देना शुरू कर दिया था. हालांकि उन्होंने यूपीएससी पास करने का सपना ग्रेजुएशन में ही बुन लिया था.

प्रणिता दाश ने मास्टर्स के बाद कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से एमफिल भी किया. साथ में वह यूपीएससी की तैयारी भी कर रही थीं. प्रणिता ने पहली बार यूपीएससी एग्जाम 2020 में दिया. इसके बाद दूसरा प्रयास 2021 में किया. दोनों प्रयास में उन्हें कामयाबी नहीं मिली. दूसरी बार प्रीलिम्स महज दो नंबर से क्लियर नहीं हुआ.

प्रणिता को कामयाबी तीसरे प्रयास में मिली. उन्होंने साल 2022 में एक बार फिर यूपीएसससी एग्जाम दिया. इस बार उन्होंने ऑल इंडिया 42वीं रैंक के साथ यूपीएससी एग्जाम क्रैक किया और इस तरह उनका आईएएस बनने का ख्वाब पूरा हुआ. प्रणिता यूपीएससी 2022 का मेन्स देकर कैंब्रिज चली गई थीं. मेन्स क्लियर हुआ तो इंटरव्यू की तैयारी यहीं की

प्रणिता बताती हैं कि उन्होंने एमफिल और यूपीएससी दोनों को बराबर वक्त दिया. सुबह एमफिल की पढ़ाई करती थीं. जबकि शाम कोयूपीएससी की तैयारी. प्रणिता बताती हैं कि उन्होंने अपना पुराना रूटीन जारी रखने की कोशिश की. इससे उन्हें काफी मदद मिली. उनका मनाना है कि ऐसी स्थिति में सही रूटीन बहुत जरूरी होती है.