School Summer Vacation: शिक्षकों के गर्मी छुट्टी के उम्मीदों पर फिरा पानी, अधिसूचना जारी
 

शिक्षकों के गर्मी छुट्टी के उम्मीदों पर पानी फिर गया है। जबकि 17 दिनों की छूट्टी को शिक्षा विभाग द्वारा बुधवार को अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। लेकिन शिक्षक इस बार लम्बी सैर सपाटे का एन्जॉय नहीं कर सकेंगे। उन्हें 31 मई तक चुनावी कार्य के कारण मुख्यालय में ही रहना पड़ सकता है।

बतादें की पंचयात चुनाव के पहले चरण का मतदान पर्व 14 मई शुरू हो रही है ,जिसके बाद दूसरे चरण का मतदान 19 मई को, तीसरे चरण का मतदान 24 मई को और चौथे चरण का मतदान 27 मई को है। चौथे चरण के मतदान का 31 मार्च काउंटिंग होने तक सरकारी व सहायक शिक्षकों को ड्यूटी में लगाए जाने की संभावना है।

वर्तमान में पंचयात चुनाव के कारण आचार संहिता लागू है। आचार संहिता के कारण सरकारी कर्मियों की छुट्टी नहीं देने का आदेश जारी की गई है । विशेष परिस्थिति में उच्च अधिकारियों द्वारा ही छुट्टी मंजूर की जाएगी। पंचयात चुनाव के बीच ही इस बार 17 मई से 17 दिनो की गर्मी छुट्टी को अधिसूचना शिक्षा विभाग ने बुधवार को जारी की है।

पर चुनावी मतदान कार्य मे अधिकांश सरकारी और सहायक अध्यापकों को लगाया गया है। कई ऐसे शिक्षक हैं जिन्हें दो दो चरण के मतदान समपन्न कराने में ड्यूटी में लगाया गया है। जहां पहले चरण का मतदान है वहां तो शिक्षको को गर्मी छुट्टी मिल सकता है पर दूसरे ,तीसरे और चौथे चरण के मतदान के कारण उन क्षेत्रों के शिक्षकों को मतदान कार्य मे लगाए जाने के कारण उनकी गर्मी छुट्टी कैंसल भी हो सकती है।

अखिल झारझण्ड प्राथमिक शिक्षक संघ के हज़ारीबाग़ जिला अध्यक्ष ने कहा

इस सम्बंध में अखिल झारझण्ड प्राथमिक शिक्षक संघ के हज़ारीबाग़ जिला अध्यक्ष प्रवीण कुमार ने बताया कि घोषित छुट्टी 17 मई से 4 जून तक है। शिक्षा विभाग द्वारा अधिसूचना जारी कर दी गई है। उन्होंने आगे कहा कि वैसे कर्मी जिन्हें मतदान कार्य मे डयूटी लगेगी उन्हें मुख्यालय से जो निर्देश प्राप्त होगा उसका पालन तो करना ही पड़ेगा । आगे शिक्षा विभाग का कुछ निर्देश आने पर ही कुछ कहा जा सकता है। SCHOOL SUMMER VACATION

शिक्षक गर्मी छूट्टी में नहीं जा सकेंगे बाहर
गर्मी छुट्टी 17 मई से 4 जून तक घोषित है । और चुनावी कार्य 31 मई को समपन्न हो रहे हैं। ऐसे में शिक्षकों के पास मात्र 3 दिनों का ही छुट्टी का समय मिल पायेगा। ऐसे में अगर कोई शिक्षक गर्मी छुट्टी में बाहर घूमने जाने का प्लान बनाकर रखे होंगे तो उनके अरमानों पर पानी फिर सकता है। हो सके तो पंचयात चुनाव के मद्देनजर शिक्षकों को मुख्यालय में ही रहने का आदेश जल्द जारी हो।