Chopal TV

आज के समय में जीवन शैली में माइक्रोवेव में खाना गर्म करने का चलन बढ़ा है। लेकिन रिसर्च  में जो खुलासा हुआ है, उसे जानकर शायद आप भी हैरान हो जाएं। दरअसल, रिसर्च में ये सामने आया है कि, माइक्रोवेव में खाना गर्म करना सेहत के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। जैसे कि एलुमिनियम फाइल और प्लास्टिक में रखा हुआ खाना नहीं खाना चाहिए, ठीक उसी प्रकार कुछ ऐसी खाद्य सामग्री रहती है, जिन्हें माइक्रोवेव में गर्म करके खाना सेहत को काफी नुकसान पहुंचा सकता है।


माइक्रोवेव में चावल को गर्म करके खाने से फूड प्वाइजनिंग की आशंका बढ़ सकती है। ऐसा करने से चावल में बेसिलस सेरेस नामक बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। यह बैक्टीरिया गर्म होने के कारण नष्ट हो जाते हैं, लेकिन इससे स्पोर्स पैदा होते हैं, जो जहरीले हो सकते हैं।

‘Skin rashes’ से हैं परेशान ? यहां देखें इन्हें दूर करने के आसान और घरेलू तरीके

वैज्ञानिकों का मानना है कि, एक बार चावल को माइक्रोवेव में गर्म करके नार्मल टेंपरेचर पर बाहर रखा जाता है तो इसमें मौजूद स्पोर्स फूड पॉइजनिंग का खतरा बढ़ा सकते हैं। इसलिए चावल को माइक्रोवेव में दोबारा गर्म करके नहीं खाना चाहिए। इसके बजाए चावल को तुरंत पकाकर खाना ही बेहतर विकल्प है। साथ ही चावल को मिट्टी की हांडी में पकाकर खाना ज्यादा फायदेमंद होता है, क्योंकि शरीर में ज्यादा कार्बोहाइड्रेट नहीं जाता है।

पके हुए आलू को दोबारा गर्म करने पर इसमें मौजूद बैक्टीरिया गर्म होने पर भी मरते नहीं हैं.।इससे स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। आलू में पाए जाने वाले तत्व विटामिन बी6, पोटेशियम और विटामिन सी शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन आलू को दोबारा गर्म करने के कारण यह आवश्यक तत्व नष्ट हो जाते हैं।इसके अलावा आलू को बार-बार गर्म करके खाने से इसमें बोटुलिनम पैदा हो सकते हैं, जो कि बैक्टीरिया को बढ़ावा देते हैं।

हरी पत्तेदार सब्जियों को दोबारा गर्म करने पर इसमें मौजूद नाइट्रेट तत्व नष्ट हो जाता है। हरी पत्तेदार सब्जियों को बार-बार गर्म करने पर इनका विपरीत असर पड़ने लगता है।  इसके कारण त्वचा पर दाने व धब्बे उभर सकते हैं।


अंडे को भी दोबारा गर्म करके खाने से शरीर को नुकसान हो सकता है। अंडे को दोबारा गर्म करने पर नाइट्रोजन का ऑक्सीडेशन हो जाता है, जिससे कैंसर की आशंका बढ़ जाती है।


चिकन, मटन को बार-बार गर्म करके खाने से उसमें मौजूद प्रोटीन खत्म हो जाता हैं।इसके अलावा पेट से संबंधित समस्या शुरू हो जाती है। इसके अलावा इससे गैस, एसिडिटी, कब्ज, आदि समस्याएं हो सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *