हरियाणा में दिल दहला देने वाली घटना, पिता ने पहले मारी मासूम बेटे को गोली, फिर की खुदकुशी
 


हरियाणा के भिवानी के गांव हरियावास में रविवार शाम को एक पिता ने दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम दिया। पिता संदीप ने पहले दस साल के बेटे मयंक और इसके बाद खुद को भी गोली मार ली। बेटे को खेत में ले जाकर गोली मारने के बाद सूचना देने घर पहुंचा वहां आकर खुद के सिर में गोली मार ली। 

इस घटना के बाद दोनों को परिजन हिसार के एक निजी अस्पताल में लेकर गए। वहां पर चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। घटना की जांच करने के लिए बहल थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने प्राथमिक जांच के बाद हत्या का मामला दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक भिवानी जिले के गांव हरियावास निवासी 35 वर्षीय संदीप खेती बाड़ी का काम करता था। उसका दस साल का बेटा मयंक नामक इकलौता बेटा था। उसे व उसकी पत्नी सरोज को बेटा बहुत प्यारा था। पूरा परिवार हंसी खुशी से रह रहा था।

बताया जा रहा है कि रविवार सायं करीब साढ़े चार-पांच बजे संदीप अपने 10 वर्षीय बेटे मयंक को खेत में ले गया। वहां ले जाकर संदीप ने अपने बेटे को गोली मार दी। बेटे के खून में लथपथ शव को खेत में छोड़कर संदीप अपने घर आ गया। उसने घर आकर अपने भाई वीरभान को बताया कि मयंक को गोली मार दी है। वह खेत में पड़ा है। 

वीरभान परिवार के लोगों को लेकर खेत पहुंचा तो पीछे से संदीप ने अपने घर पर खुद के सिर में गोली मार ली। वीरभान मयंक को देखने खेत में पहुंचा। वहां भतीजे मयंक को खून में लथपथ पड़ा हुआ देखकर हैरान रह गया। बाप-बेटे को इलाज के लिए हिसार के एक निजी नर्सिंग होम ले जाया गया। 

इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और कार्रवाई में जुटी हुई है। परिवार के लोगों का कहना है कि संदीप मानसिक रूप से बीमार चल रहा था। उसका इलाज भी चल रहा था। बताया जाता है कि संदीप एक आपराधिक मामले में जेल भी रह कर आया है।

इस मामले में जांच अधिकारी रविंद्र कुमार ने कहा कि पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है। मामला काफी गंभीर है। पुलिस बच्चे की हत्या किए जाने के कारणों का पता लगा रही है। प्राथमिक जांच के आधार पर पुलिस ने मृतक संदीप के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। पुलिस द्वारा दोनों के शवों को सोमवार सुबह पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।