हरियाणा में फूड सप्लाई ऑफिसर और इंस्पेक्टर को किया सस्पेंड, जानिये क्या है मामला ?
 

हरियाणा के करनाल में खाद्य आपूर्ति विभाग ने असिस्टेट फूड सप्लाई ऑफिसर और इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया है। दोनों पर गेंहू चारी का आरोप है। AFSO निर्दोष डांगी और इंस्पेक्टर योगेश कूंडू पर यह कार्रवाई की गई है।

अब विभाग के डायरेक्टर विजय दहिया ने दोनों को सस्पेंड कर दिया है। अगस्त महीने में असंध-सालवन रोड पर विभाग के गोदाम में गेहूं का स्टॉक का उठान कार्य चल रहा था। एएफएसओ निर्दोष डांगी और इंस्पेक्टर योगेश कुंडू की लेबर पर गेहूं के कट्टों में परखी मारकर चोरी करने के आरोप लगे थे। इसका वीडियो भी वायरल हुआ। 

मामले की जांच डीसी निशांत यादव ने एडीसी योगेश कुमार को सौंपी थी। जांच में निर्दोष डांगी और योगेश कुंडू की मिलीभगत सामने आई थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर डायरेक्टर ने दोनों को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया।

एएफएसओ निर्दोष डांगी के खिलाफ असंध के डिपो होल्डर्स ने शपथ देकर कई गंभीर आरोप लगाए। इनकी अभी जांच चल रही हैं। डांगी के खिलाफ एक गुमनाम शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन विभाग के आला अधिकारी ने शिकायतकर्ता के सामने न आने के चलते मामले को ठंडे-बस्ते में डाल दिया। 

खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता विभाग के डायरेक्टर विजय दहिया की ओर से सस्पेंड किए गए इंस्पेक्टर योगेश कुंडू के खिलाफ इंद्री में गेहूं पर पानी डलवाने के आरोप लगे। इस मामले में उसके खिलाफ कार्रवाई हो चुकी है।

इसके बावजूद योगेश कुंडू खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के करनाल में तैनात रहे अधिकारियों के चहेते बने रहे। अब करनाल के एडीसी योगेश कुमार की जांच में वह दोषी पाए गए। इसलिए उन्हें सस्पेंड कर दिया गया।