Chopaltv.com
लव स्टोरी का अंत- प्रेमिका की सगाई से नाराज आशिक ने पहले मारे 10 चाकू, फिर ट्रेन के आगे कूदकर दे दी जान
 


एक प्रेमी जोड़े की प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत हो गया जब प्रेमिका की परिजन सगाई कर चुके थे। इसी बात से नाराज प्रेमी ने अपनी प्रेमिका की हत्या कर दी और खुद भी मौत को गले लगा लिया।

दरअसल ये मामला राजस्थान के जोधपुर का है। पुलिस के अनुसार सोजत रोड निवासी लक्षिता पाल हॉस्टल में रहकर लॉ की पढ़ाई कर रही थी। वो नागौर निवासी हेमंत से प्यार करती थी। लक्षिता की उसके परिजनों ने सगाई कर दी।

इस बात से नाराज होकर उसके प्रेमी ने मिलने के लिए बुलाया और होटल ले जाकर उसकी हत्या कर दी। मंगलवार को हेमंत का शव मंडोर रेलवे स्टेशन के ट्रैक में कटा हुआ मिला। पुलिस ने मामलें में जांच (MURDER) शुरू कर दी है।

पुलिस ने परिजनों को सूचना दी गई जिसके बाद शव का पोस्टमॉर्टम कर परिवार वालों को सौंपा दिया है। वहीं, सुबह मंडोर इलाके में हेमंत का शव ट्रेन के कटने से शरीर दो हिस्सों में बंट गया गया था।

हेमंत की जेब में आईडी कार्ड से पता चला कि वह नागौर का रहने वाला है। प्रेमिका लक्षिता की 7 दिन पहले ही सगाई हुई थी। वह जोधपुर में हॉस्टल में रहकर लॉ की पढ़ाई कर रही थी।

पुलिस के अनुसार आरोपी हेमंत कपड़ा कारोबारी है। वो लक्षिता से पांच साल से प्रेम कर रहा था। 7 दिन पहले लक्षिता की सगाई हुई थी। इस बात से नाराज होकर उसने लक्षिता को मिलने के बहाने बुलाया और होटल में ले जाकर हत्या कर दी।

पुलिस ने दोनो के शवों को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। मामलें में होटल के कर्मचारियों और रेलवे ट्रैक में हेमंत का शव सबसे पहले देखने वालो से पुलिस पूछताछ कर रही है।