बिजनसमैन ने 70 लाख के लिए पत्नी को उतारा मौत के घाट, परिवार फरार
 

कानपुर के अशोक नगर में शुक्रवार देर रात एक मसाला कारोबारी की पत्नी की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। बाथरूम में दुपट्टे के फंदे से उसका शव लटकता मिला। बेटी पैदा होते ही उसका गला घोंट देना, लेकिन पैसे वाले घर में अपनी बेटी न ब्याहाना..। यह शब्द पोस्टमार्टम हाउस में बेटी आंचल का शव मिलने के बाद उससे लिपट कर रोते हुए पिता ने कहे। 

उनके इन शब्दों को सुनकर आसपास खड़े सभी लोगों की आंखें नम हो गईं। आंचल ग्रोवर की मौत के मामले में मृतका के परिजनों ने ससुराल वालों पर कई आरोप लगाए हैं। जिसमें एक आरोप बेहद संगीन है। आंचल की मां रीना का आरोप है कि दामाद सूर्यांश खरबंदा ने आंचल का अश्लील वीडियो बनाया था।

जिसके जरिये वह उसको ब्लैकमेल कर रहा था। पत्नी को बदनाम करने की आरोपी साजिश रच रहा था। जिससे उससे पीछा छूट जाए। पुलिस इस आरोप की भी गंभीरता से जांच कर रही है। पवन ग्रोवर ने एफआईआर में आरोप लगाया कि काफी समय से वह 70 लाख रुपये की मांग आंचल से कर रहे थे। 

उसका कहना था कि वह क्लब खोलना चाहता है इसलिए इतनी रकम वह मायके से लाकर दे। मांग न पूरी करने पर मारपीट व प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। आरोप है कि जब मांग नहीं पूरी की गई तो आखिर में उसको मारकर लटका दिया। 

शव पोस्टमार्टम हाउस में आने के बाद परिजन पति और सास निशा की तुरंत गिरफ्तारी की मांग को लेकर हंगामा करने लगे। परिजनों ने शव को उठाकर पोस्टमार्टम हाउस के बाहर सड़क पर ले जाने का प्रयास किया तो पुलिस ने उन्हें घेर कर वहीं रुकने को कहा। इस बीच दोनों पक्षों में जमकर छीनाझपटी हुई। 

करीब 3.15 बजे परिजनों ने शव को ले जाकर सड़क पर रख कर जाम लगा दिया। सवा दो घंटे तक चले मान मनौव्वल के बाद शव को शाम 5.30 बजे उठा कर काकादेव स्थित मायके पहुंचवाया जा सका। इस दौरान हैलट से लेकर मोतीझील गेट तक वाहनों को जाम का सामना करना पड़ा। एक ही लेन से दोनों तरफ के वाहनों का आवागमन कराया गया।

परिजनों ने बताया कि आंचल व सूर्यांश का दो साल का बेटा अयांश है। जो नौकरानियों के पास मिला। परिजनों के मुताबिक शादी के बाद जब अयांश का जन्म हुआ था तब से सूर्यांश ने आंचल से दूरी बनानी शुरू कर दी थी।

एक तरह से ऐसा लग रहा था कि जैसे वह उसको छोड़ना चाहता था। आरोप है कि वह कई अन्य लड़कियों के संपर्क में रहता है। अपनी अय्याशी की वजह से वह पत्नी व बच्चे से दूरी बना रहा था। 

परिजनों के मुताबिक घर पर तीन थम्ब इम्प्रेशन वाली तिजोरियां हैं। जिसमें से एक तिजोरी में कॉमन थम्ब इंप्रेशन लॉक लगा हुआ था। आरोप है कि वारदात को अंजाम देने के बाद इस तिजोरी में रखे 50 लाख के जेवरात भी सूर्यांश लेकर गया है। 

आंचल के परिजनों ने आरोपी पक्ष की एक महिला पर संगीन आरोप लगाया है। आरोप है कि महिला के संबंध एक रिश्तेदार से हैं। जिसकी जानकारी आंचल को हो गई थी। इस वजह से आरोपी पक्ष आंचल को अधिक प्रताड़ित करने लगे थे। इन सभी आरोपों की पुलिस जांच कर रही है।