Chopaltv.com
रोहतक हत्याकांड- बेटे की इन हरकतों को नहीं भांप पाए परिजन, जिसे लड़का समझा वो कुछ और निकला, देखिये वीडियो
 

रोहतक में चार माता पिता, बहन और नानी की हत्या के बाद आरोपी बेटे अभिषेक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी बेटे को पांच दिन के रिमांड पर लिया है। इस दौरान पुलिस ने पूरी वारदात के क्राइम सीन को दोहराया है।

वहीं पुलिस की टीम ने इस चौहरे हत्याकांड में इस्तेमाल किये गए पिस्तौल को भी नहर किनारे से बरामद किया है। पुलिस की टीम लगातार अभिषेक से पूछताछ कर रही है वहीं इस हत्याकांड में अहम पहलू पहले प्रॉपर्टी का माना जा रहा था वह भी अब बदल गया है, क्योंकि अभिषेक समलैंगिंक बताया जा रहा है।

सोशल मीडिया अकाउंट पर अभिषेक की काफी वीडियो और फोटो मिले हैं जिसमें उसकी हरकतों को परिवार के लोग भी नहीं भांप पाए थे। वह अलग अलग जगहों पर होटलों में ठहरता था और उसका दोस्त भी उसके साथ होता था, क्योंकि उसकी काफी फोटो और वीडियो किसी दूसरे शख्स की बनाई हुई है।

रोहतक में चार हत्याओं के आरोपी की गहन पूछताछ में खुलासा हुआ है कि आरोपी अभिषेक समलैंगिंक है और वह अपने पुरुष दोस्त के साथ रहना पंसद करता था। हत्याकांड से पहले भी वह दो दिनों तक अपने दोस्त के साथ होटल में रुका हुआ था।

वहीं मां बाप बहन और नानी की हत्या के बाद भी वह होटल में अपने दोस्त के पास गया था वहां पर पार्टी की थी। इसके अलावा अभिषेक के इंस्टा अकाउंट पर काफी वीडियो भी मिले हैं जिसमें उसकी हरकतें लड़कियों वाली प्रतीत होती है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक अब अभिषेक की मनोचिकित्सकों द्वारा काउंसलिंग की जा रही है। वह लगातार अपने दोस्त के पास जाने की जिद्द कर रहा है। उसे अपने परिजनों की अभी तक चिंता नहीं है। वह बार बार अपने दोस्त को याद कर रहा है।

READ THIS – आपके घर के पास नौकरियां ही नौकरियां-  CLICK HERE 

बताया जा रहा है कि अभिषेक बीकॉम की पढाई रोहतक से कर रहा था वहीं परिजनों ने उसे केबिन क्रू के कोर्स के लिए दिल्ली लगाया था। अभिषेक अब परिजनों से पांच लाख रुपये मांग रहा था, जबकि परिजनों ने अभिषेक को होंडा सिटी कार और एप्पल का मंहगा मोबाइल भी दिलवाया था।

बताया जा रहा है कि पांच लाख रुपये से वह जेंडर बदलवाकर अपने दोस्त के साथ रहना चाहता था और दोनों विदेश में जाना चाहते थे। उसका दोस्त उतराखंड का बताया जा रहा है जो कि उसके जन्मदिन पर भी आया था और अब उसके साथ रुका हआ था।

Abhisek in Hotel Room Rohtak

READ THIS – आपके घर के पास नौकरियां ही नौकरियां-  CLICK HERE 

अभिषेक ने पुलिस के सामने बताया कि सबसे पहले उसने गोली चलने की आवाज किसी को सुनाई ना दे इसके लिए घर में टीवी पर तेज आवाज में गाने चला दिये थे, जिसके बाद वह छत पर गया और वहां पर कमरे में बहन तमन्ना को गोली मारी।

बहन तमन्ना के कमरे का दरवाजा बंद नहीं था जिसके चलते नानी को आवाज सुनाई दी तो वह पहुंच गई। इस दौरान नानी ने कहा कि तूने नाश कर दिया। फिर अभिषेक ने नानी को गोली मारी, लेकिन बचने का अंदेशा हुआ तो दूसरी गोली भी मार दी।

नानी रोशनी को गोली मारने की आवाज सुनने के बाद मां बबली भी कमरे में आ गई। बबली के हाथ में झाड़ू थी, शायद वहां झाड़ू निकाल रही थ, इसके बाद मां बबली को भी गोली मार दी और कमरे को लॉक करके नीचे के कमरे में अपने पिता के पास आ गया।

नीचे के कमरे में पिता प्रदीप अकेला था और फोन पर किसी से बातचीत कर रहा था, अभिषेक ने पिस्तौल को छुपाकर रखा और वह पास में बैठ गया, जैसे ही फोन कटा तो उसने अपने पिता के माथे में गोली मार दी।

इस वारदात को अंजाम देने के बाद वह अपने दोस्त के पास होटल में पहुंच गया और वहां पर कुछ देर तक सोचता रहा कि परिवार के लोगों को इसके बारे में कैसे पता चले, इसके लिए मैं क्या करुं।

होटल से सीधा चाचा के गऱ पहुंचा और बताया कि घर पर कोई दरवाजा नहीं खोल रहा है, चाचा के बाद पड़ोस की एक दादी के पास पहुंचा, उससे पूछा कि मेरी मां आई थी क्या, उससे भी बताया कि घर का दरवाजा नहीं खोल रहे।
बता दें कि आरोपी अभिषेक ने अपने पिता प्रदीप बबलू उम्र 45 साल, मां बबली उम्र 40 साल, बहन तमन्ना उम्र 17 साल व नानी रोशनी उम्र 60 साल की हत्या कर दी थी। 

READ THIS – आपके घर के पास नौकरियां ही नौकरियां-  CLICK HERE