Chopaltv.com
हरियाणा का बेटा सियाचिन में हुआ शहीद, पिता के बाद डेढ़ साल पहले मिली थी राजपूत बटालियन
 

Chopal Tv, Sohna

हरियाणा के सोहना के गांव भोंडसी का लाल तरुण शर्मा देश की रक्षा करते-करते शहीद हो गया। जब गांव में तरुण के शहीद होने की खबर मिली तो गांव में मातम पसर गया। पूरे गांव की आंखे नम हो गई।

महज 21 साल की उम्र में तरुण ने देश की लिए अपनी जान दे दी। तरुण के परिवार में देशभक्ति कूट-कूट कर भरी है। तरुण के पिता नंदकिशोर भी भारतीय सेना की 16 राजपूत बटालियन में का हिस्सा थे। कुछ समय पहले ही वो सेवानिवृत्त हुए है।

डेढ़ साल पहले ही तरुण भी 16 राजपूत बटालियन में भर्ती हुए थे। और उनकी पहली पोस्टिंग सियाचिन में हुई। बताया जा रहा है कि जब तरुण ड्यूटी पर तैनात थे तो अचानक बर्फ टूट गई और तरुण उसके नीचे दब गए।

काफी समय बर्फ में दबे रहने के कारण तरुण ने वहीं पर आखरी सांस ली। आज शहीद तरुण का पार्थिक शरीर उनके पैतृक गांव भोंडसी लगाया जाएगा। जहां पर अंतिम दर्शन के बाद राजकीय सम्मान के साथ उनका शरीर पंचतत्व में विलीन हो जाएगा।