Chopaltv.com
किसानों को लगेगा झटका, वापस करने होंगे योजना के पैसे, जानें लिस्ट में आपका नाम तो नहीं…
Chopal Tv, New Delhi अगर आप किसान योजना का लाभ उठा रहे है तो आपको झटका लगने वाला है। क्योंकि आपको योजना के पैसे वापस करने पड़ सकते है। जो किसान गलत तरीके से किसान योजना का लाभ उठा रहे थे सरकार उनपर कड़ी कार्रवाई करने वाली है। If you...
 
किसानों को लगेगा झटका, वापस करने होंगे योजना के पैसे, जानें लिस्ट में आपका नाम तो नहीं…

Chopal Tv, New Delhi

अगर आप किसान योजना का लाभ उठा रहे है तो आपको झटका लगने वाला है। क्योंकि आपको योजना के पैसे वापस करने पड़ सकते है। जो किसान गलत तरीके से किसान योजना का लाभ उठा रहे थे सरकार उनपर कड़ी कार्रवाई करने वाली है।

If you are taking advantage of the Kisan Yojana, then you are going to get a shock. Because you may have to return the plan money. The government is going to take strict action against the farmers who were taking advantage of the farmers scheme in a wrong way.

दरअसल ये मामला तब शुरु हुआ जब उत्तर प्रदेश के इटावा जिले मे पीएम किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों की जांच में 5553 लाभार्थी अपात्र पाए गए। इसके बाद सभी अपात्र पाये जाने के बाद सम्मान राशि की वापसी शुरू हो गई।

जिला कृषि अधिकारी अभिनंदन सिंह ने बताया कि किसान प्राप्त किस्तों की पूरी धनराशि सरकार के खाते में जमा कर उसके चालान की एक प्रति उप कृषि निदेशक कार्यालय इटावा में जमा करेंगे। उन्होंने बताया कि सख्ती के बाद इनमें से 4400 किसानों ने निधि में प्राप्त धनराशि वापस भी कर दी।

District Agriculture Officer Abhinandan Singh said that the farmers would deposit the entire amount of the installments received in the account of the government and submit a copy of the challan to the office of the Deputy Director of Agriculture, Etawah. He said that after strictness, 4400 of these farmers also returned the amount received in the fund.

लेकिन 1153 अपात्र किसानो ऐसे है जिन्होंने अभी तक यह रकम नहीं लौटाई है। अब कृषि विभाग इन किसानों का पता लगाने में जुटा है। जिन लोगों ने पैसे वापस नहीं की उनसे जल्द वसूली की जाएगी। जिला कृषि अधिकारी कार्यालय एवं उप कृषि निदेशक कार्यालय इटावा में तीन अगस्त 2021 तक संपर्क कर सकते हैं

जिला कृषि अधिकारी ने बताया कि धनराशि जमा करने के लिए अपात्र किसान जनसेवा केंद्रों अथवा संबंधित ब्लाक के राजकीय कृषि बीज भंडार प्रभारी अथवा सहायक विकास अधिकारी कृषि से सहायता ले सकते हैं।

District Agriculture Officer said that ineligible farmers can take help from public service centers or Government Agricultural Seed Store in-charge of the concerned block or Assistant Development Officer Agriculture for depositing the amount.

उन्होंने बताया कि यदि आप आयकर दाता हैं, किसी संवैधानिक पद पर हैं अथवा 10000 से अधिक पेंशन पाने के बाद भी पीएम किसान सम्मान निधि की धनराशि ले चुके हैं तो यह राशि वापस करनी होगी। धनराशि जमा करने के लिए कृषि विभाग ने सीमारेखा भी खींच दी है।

आपके बता दें कि इटावा जिले में 2 लाख 45 हजार 41 किसानों को पीएम सम्मान निधि के रूप में हर चौथे माह 325 करोड़ रुपये का भुगतान सीधे खातों में भेजा जा रहा है। लेकिन जब जांच की गई तो अपात्र किसानों के खातों को सम्मान निधि भेजने के लिए लॉक कर दिया।

Let us tell you that in Etawah district, 2 lakh 45 thousand 41 farmers are being paid Rs 325 crore every fourth month directly in the form of PM Samman Nidhi. But when the investigation was done, the accounts of the ineligible farmers were locked to send the Samman Nidhi.